कोरोना वायरसदिल्लीदेशबिहारराज्य

इटली में फंसे 153 भारतीयों ने लगाई मदद की गुहार

पटना (लोकसत्य)। कोरोना महामारी आने के बाद इटली में फंसे कोस्टा क्रूज के 153 भारतीय सदस्य भारत सरकार से लगातार मदद की गुहार लगा रहे हैं लेकिन अभी तक इस पर कोई सुनवाई नहीं हुई है।
कोस्टा क्रूज के भारतीय सदस्यों को पहले आश्वासन दिया गया था कि उन्हें सुरक्षित भारत भेज दिया जाएगा लेकिन उनके इटली पहुंचने पर कोरोना महामारी के कारण उन्हें वहीं रोक लिया गया और क्रूज प्रबंधन अपने वादे पूरे नहीं कर पाया। ये लोग भारत सरकार से लगातार मदद की गुहार लगा रहे हैं लेकिन उस पर कोई सुनवाई नहीं हो रही है।
इटली में फंसे बिहार की राजधानी पटना के महावीर नगर निवासी राजीव कुमार के चचेरे भाई कुंदन सिंह ने आज यहां बताया कि प्रधानमंत्री, विदेश मंत्री एवं गृह मंत्री से क्रूज में फंसे लोगों की मदद के लिए लगाई गुहार बेकार चली गई है। इससे संबंधित एक वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई है लेकिन संबंधित अधिकारियों पर कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। उन्होंने केंद्र सरकार से इटली में फंसे सभी 153 भारतीय के सुरक्षित स्वदेश लौटने में मदद करने का आग्रह किया है।
इटली में फंसे सभी 153 क्रूज सदस्य मुसीबत मे हैं क्योंकि इनमें से एक भारतीय कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। यदि उनके भारत लौटने की व्यवस्था हो जाती है तो वे तय अवधि होम क्वारंटाइन में बिताना चाहते हैं।
केंद्रीय वित एवं कंपनी मामलों के राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने 24 मार्च 2020 को इस मामले पर संज्ञान लेते हुए विदेश राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन को पत्र लिखा और उनसे इन सभी भारतीयों को इटली से सुरक्षित वापस लाने में मदद करने का आग्रह किया है। लेकिन, इस दिशा में अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close