बड़ी खबरें

‘हाउडी-मोदी’ पर टिकी है सभी की निगाहें

ह्यूस्टन, (लोकसत्य)। बहुप्रतीक्षित ‘हाउडी-मोदी’ के आयोजन पर अब सभी की निगाहें टिकी हुई है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प इतिहास के एक नये मंच पर हाथ से हाथ मिलाकर कदमताल मिलायेंगे। ‘सपनों की साझेदारी, सुनहरा भविष्य’ की टैगलाइन के साथ यहां एनआरजी स्टेडियम में आयोजित ‘हाउडी -मोदी’ रैली में विश्व के दो महान लोकतांत्रिक देशों के नेताओं की मुलाकात होगी।

यह कार्यक्रम दोनों देशों के राजनीतिक कौशल और अमेरिकी जीवन को समृद्ध बनाने के लिए सक्रिय समुदाय के योगदान को भी प्रतिबिम्बित करेगा। ‘हाउडी मोदी’ शब्द “ हाउ डू यू डू मोदी ” का संक्षिप्त रूप है। इस कार्यक्रम में करीब 20 देशों और अमेरिका के 48 प्रांतों के लगभग 50,000 लाेगों के पहुंचने का अनुमान है।

मोदी ने यहां पहुंचने के तत्काल बाद अपने ट्वीट में कहा, “ हाउडी ह्यूस्टन। ह्यूस्टन में यह एक सुनहरा अवसर है। सक्रियता और उर्जा से ओत-प्रोत इस शहर में कार्यक्रमों की श्रृंखला की प्रतीक्षा कर रहा हूं।” ट्रम्प भी इस रैली में मोदी के साथ सहभगिता करेंगे। अमेरिका के इतिहास में यह पहला अवसर होगा, जब कोई राष्ट्रपति एक विदेशी नेता के साथ रैली को संबोधित करेंगे और किसी मंच को साझा करेंगे।

मोदी ह्यूस्टन से न्यूयार्क के लिए रवाना होंगे, जहां वह अगले कुछ दिनों में ट्रम्प और 20 अन्य देशों के नेताओं के साथ द्विपक्षीय एवं बहुपक्षीय बैठक करेंगे। मोदी और ट्रंप के बीच पिछले चार महीनों में यह चाैथी द्विपक्षीय बैठक होगी। सोमवार 23 सितम्बर को जार्डन के शासक और फ्रांस के राष्ट्रपति ईमैनुएल मैक्राेन तथा अन्य की संयुक्त मेजबानी में ‘लीडर्स डॉयलाग’ का आयोजन किया गया है। मोदी को इस कार्यक्रम को संबोधित करने के लिए आमंत्रित किया गया है। जर्मनी की चांसलर एजेंला मर्केल और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।

दूसरे दिन 24 सितम्बर को संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस विश्व नेताओं के लिए दोपहर भोज की मेजबानी करेंगे। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में भारत ‘ नेतृत्व का मामला-गांधी की प्रासंगिकता’ थीम पर एक विशेष कार्यक्रम की भी मेजबानी करेगा। बंगलादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन और सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली ह्सिएन लूंग तथा अन्य नेता कार्यक्रम में शामिल होंगे।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव भी कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। इसी दिन एक अन्य कार्यक्रम में मोदी को स्वच्छता के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए गेट्स फाउंडेशन की ओर से विशेष पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा। मोदी 27 सितम्बर को न्यूयार्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक सत्र को संबोधित करेंगे।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close