बड़ी खबरेंस्पोर्ट्स

वार्नर-फिंच के शतक, ऑस्ट्रेलिया ने भारत को पहली बार 10 विकेट से हराया

मुंबई, (लोकसत्य)। ओपनर डेविड वार्नर (नाबाद 128) और आरोन फिंच (नाबाद 110) के जबरदस्त शतकों तथा उनके बीच 258 रन की ओपनिंग साझेदारी के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने भारत को पहले वनडे में मंगलवार को 10 विकेट से करारी शिकस्त देकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। विश्व क्रिकेट की दो दिग्गज टीमों की टक्कर में ऑस्ट्रेलिया ने भारत के खेल के हर विभाग में पछाड़ दिया और अपने एकदिवसीय इतिहास में भारत के खिलाफ पहली बार 10 विकेट से जीत हासिल की। भारत ने हालांकि 49.1 ओवर में 255 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया लेकिन दोनों ऑस्ट्रेलियाई ओपनरों ने इसे बौना साबित कर दिया। ऑस्ट्रेलिया ने 37.4 ओवर में बिना कोई विकेट खोये 258 रन बनाकर मुकाबला जीत लिया।

ऑस्ट्रेलिया अपने वनडे इतिहास में पांचवीं बार वनडे मैच 10 विकेट से जीता है। ऑस्ट्रेलिया ने इससे पहले वेस्ट इंडीज को 2001 में, इंग्लैंड को 2003 में, बांग्लादेश को 2005 में और बांग्लादेश को 2007 में 10 विकेट से हरा दिया। ऑस्ट्रेलिया ने इस जीत से भारत को दिखा दिया कि उसे अभी काफी मेहनत करने की जरूरत है। भारतीय टीम अपने घरेलू सत्र में दक्षिण अफ्रीका, बंगलादेश, वेस्ट इंडीज और श्रीलंका से सीरीज जीतने के बाद यह सीरीज खेल रही थी लेकिन मेहमान टीम ने मेजबानों को वानखेड़े स्टेडियम में तारे दिखा दिए। वार्नर और कप्तान फिंच की बल्लेबाजी ने भारतीय गेंदबाजी की पोल खोल कर भी रख दी।

वार्नर ने 112 गेंदों पर नाबाद 128 रन में 17 चौके और तीन छक्के लगाए। वार्नर ने अपनी पारी का 10वां रन बनाने के साथ ही वनडे में 5000 रन भी पूरे कर लिए। वह सबसे तेज 5000 रन पूरे करने वाले ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज और दुनिया के तीसरे बल्लेबाज बन गए। वार्नर का यह 18वां वनडे शतक था। फिंच ने अपना 16वां वनडे शतक बनाया। फिंच ने 114 गेंदों पर नाबाद 110 रन में 13 चौके और दो छक्के लगाए। भारत को इस तरह वानखेड़े में लगातार तीसरी हार का सामना करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया की भारत में यह लगातार चौथी जीत है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने 2003 और 2006 के बीच भारत में लगातार चार वनडे जीतने का कारनामा किया था।

वार्नर और फिंच के बीच 258 रन की साझेदारी ऑस्ट्रेलिया के लिए वनडे में तीसरी सबसे बड़ी साझेदारी है। ऑस्ट्रेलिया ने जहां भारत को पहली बार 10 विकेट से हराया वहीं भारत को अपने वनडे इतिहास में पांचवीं बार 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। भारत के पांच गेंदबाज मोहम्मद शमी 58, जसप्रीत बुमराह 50, शार्दुल ठाकुर 43, कुलदीप यादव 55 और रवींद्र जडेजा 41 रन देकर कोई विकेट हासिल नहीं कर पाए। भारतीय गेंदबाजों ने 20 अतिरिक्त रन भी दिए।

इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। भारत ने ओपनर एवं उपकप्तान रोहित शर्मा (10) को जल्दी गंवाया लेकिन शिखर धवन (74) और तीसरे नंबर पर उतरे लोकेश राहुल (47) ने दूसरे विकेट के लिए 121 रन की मजबूत साझेदारी की। इस साझेदारी के टूटने के बाद भारतीय पारी लड़खड़ा गयी और अन्य कोई बल्लेबाज बड़ा स्कोर नहीं बना पाया। भारतीय कप्तान विराट कोहली 16, श्रेयस अय्यर चार, विकेटकीपर ऋषभ पंत 28, रवींद्र जडेजा 25 और शार्दुल ठाकुर 13 रन बनाकर आउट हुए। पंत और जडेजा ने छठे विकेट के लिए 49 रन की साझेदारी की। दसवें नंबर के बल्लेबाज कुलदीप यादव ने 17 रन बनाये।

रोहित को मिशेल स्टार्क ने पांचवें ओवर में डेविड वार्नर के हाथों कैच कराया। रोहित ने 15 गेंदों पर 10 रन में दो चौके लगाए। शिखर और राहुल के बीच शतकीय साझेदारी से ऐसा लग रहा था कि भारत बड़ा स्कोर बनाने में कामयाब होगा लेकिन दोनों जमे हुए बल्लेबाजों के विकेट छह रन के अंतराल में गिर गए जिससे भारतीय उम्मीदों को गहरा झटका लगा। शानदार फॉर्म में खेल रहे राहुल ने 61 गेंदों पर 47 रन में चार चौके लगाए। राहुल को लेफ्ट आर्म स्पिनर एश्टन अगर ने अपना शिकार बनाया। शिखर ने अपना 28वां अर्धशतक बनाया। शिखर ने 91 गेंदों में नौ चौकों और एक छक्के की मदद से 74 रन बनाये। शिखर को पैट कमिंस ने आउट किया।

कप्तान विराट 14 गेंदों में एक छक्के की मदद से 16 रन बनाकर लेग स्पिनर एडम जम्पा को रिटर्न कैच थमा बैठे। अय्यर चार रन बनाकर स्टार्क का शिकार बने। पंत और जडेजा ने पारी को संभालने की कोशिश की लेकिन केन रिचर्डसन ने जडेजा को और कमिंस ने पंत को आउट कर दिया। जडेजा ने 32 गेंदों पर 25 रन में दो चौके और एक छक्का लगाया जबकि पंत ने 33 गेंदों पर 28 रन में दो चौके और एक छक्का लगाया। टी-20 सीरीज में अच्छी बल्लेबाजी करने वाले शार्दुल ठाकुर 10 गेंदों में दो चौकों के सहारे 13 रन बनाकर स्टार्क की गेंद पर बोल्ड हो गए। भारत का आठवां विकेट 229 रन पर गिरा। मोहम्मद शमी और कुलदीप यादव ने नौंवें विकेट के लिए 26 रन की साझेदारी कर भारत को 250 के पार पहुंचाया।

शमी ने 15 गेंदों में एक चौके के सहारे 10 और कुलदीप ने 15 गेंदों में दो चौकों की मदद से महत्वपूर्ण 17 रन बनाये। कुलदीप रन आउट हुए और शमी को रिचर्डसन ने आउट किया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से स्टार्क ने 56 रन पर तीन विकेट, कमिंस ने 44 रन पर दो विकेट, रिचर्डसन ने 43 रन पर दो विकेट, जम्पा ने 53 रन पर एक विकेट और अगर ने 56 रन पर एक विकेट लिया।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close