बिज़नेस

बीएसएनएल के 22,000 कर्मचारियों ने किया वीआरएस के ‎लिए आवेदन

नई दिल्ली (ईएमएस)। सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के कर्मचारियों ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) घोषित होने के केवल दो दिन में ही 22,000 कर्मचारियों ने वीआरएस के लिए आवेदन कर दिया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। बीएसएनएल के कर्मचारियों की संख्या करीब 1.50 लाख है। इसमें से करीब एक लाख कर्मचारी वीआरएस के दायरे में आते हैं। बीएसएनएल की वीआरएस योजना पांच नवंबर को पेश की गई और यह तीन दिसंबर तक खुली रहेगी। दूरसंचार कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि वीआरएस योजना अपनाने वाले कर्मचारियों की संख्या 22,000 को पार कर गयी है। बीएसएनएल को उम्मीद है कि करीब 77,000 कर्मचारी इस योजना का लाभ उठाएंगे। अधिकारी ने पीटीआई -भाषा से कहा कि आवेदन करने वाले कुल 13,000 कर्मचारी समूह-ग श्रेणी के हैं। हालांकि, हर श्रेणी के कर्मचारियों से अच्छी प्रतिक्रिया है। बीएसएनएल को उम्मीद है कि 70,000 से 80,000 कर्मचारी वीआरएस योजना को अपनाएंगे और इससे वेतन मद में करीब 7,000 करोड़ रुपए की बचत होगी। सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी की स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना-2019 के अनुसार 50 साल की आयु पूरी कर चुके या उससे अधिक उम्र के बीएसएनएल के सभी नियमित और स्थाई कर्मचारी वीआरएस के लिए आवेदन देने के पात्र हैं। इसमें वे कर्मचारी भी शामिल हैं जो बीएसएनएल के बाहर दूसरे संगठन में प्रतिनियुक्ति आधार पर काम कर रहे हैं। वीआरएस के तहत पात्र प्रत्येक कर्मचारी के लिए अनुग्रह राशि उसके पूरे किए गए प्रत्येक सेवा वर्ष के लिए 35 दिन तथा बची हुई सेवा अवधि के लिए 25 दिन के वेतन के बराबर होगी।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close