उत्तर प्रदेशक्राइमराज्य

Rae Bareli: पुलिस मुठभेड़ में पांच बदमाश गिरफ्तार, एक सिपाही घायल

रायबरेली(लोकसत्य)। उत्तर प्रदेश में Rae Bareli के लालगंज क्षेत्र में मुठभेड़ में पुलिस ने पांच बदमाशों को गिरफ्तार किया है जबकि एक सिपाही घायल हो गया।

पुलिस प्रवक्ता से शनिवार को बताया कि लालगंज थाने की पुलिस और स्पेशल आपरेशन ग्रुप(एसओजी) की टीम ने शुक्रवार देर रात पांच बदमाशों को मुठभेड़ में गिरफ्तार किया है। मुठभेड़ में एक बदमाश और एसओजी टीम का एक सिपाही घायल हुआ है। उन्होंने बताया कि पकड़े गए बदमाश तीन दिन पूर्व लालगंज कोतवाली क्षेत्र में हुई लूट की वारदात को अंजाम दे चुके हैं।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने मुखबिर से मिली सूचना पर बदमाशों की लोकेशन ट्रेस की। बदमाश पूरे मगही रोड पर आपस में लूट के माल का बंटवारा कर रहे है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उन्हें आत्मसर्मण करने के लिये कहा लेकिन बदमाशों ने पुलिस कर्मियों को जान से मारने की नीयत से उन पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी जिसमें एक गोली एसओजी के सिपाही सुरेश कुमार वर्मा को लगी और वह गंभीर रूप से घायल हो गया।

इसके बाद पुलिस ने चारों ओर से नाकाबंदी करके बदमाशों को घेर लिया और जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग शुरू कर दी। बचाव में पुलिस की ओर से की गई फायरिंग में बदमाश रत्नेश उर्फ सोनू घायल हो गया। वह भदोखर क्षेत्र के बेहटाखुर्द का निवासी है।

उसका दूसरा साथी छोटू उर्फ श्रीकांत मौके से भागने लगा जिसे कुछ दूरी पर पुलिस ने धर दबोचा। पुलिस टीम ने घायल सिपाही और बदमाश को सीएचसी पहुंचाया जहां से दोनों को उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

गिरफ्तार हुए बदमाशों से कड़ाई से पूछताछ में उन्होंने अपने तथा अपने तीन साथी नवनीत यादव, लवकुश यादव, और विमलेश यादव का पिछले दिनों सर्राफा व्यापारी आशीष बाजपेयी के साथ हुई लूट की वारदात शामिल होना कबूल किया। पुलिस ने कॉम्बिंग और घेराबंदी करके मगही रोड के पास सभी कथित लुटेरों के गैंग को पकड़ लिया।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि तीन दिन पूर्व लालगंज में सर्राफा व्यवसायी से हुई लूट में मुखबिर से सूचना मिली कि बदमाश मगही मोड़ के पास मौजूद हैं। तत्काल कोतवाली पुलिस के साथ एसओजी को लगाया और गैंग को अरेस्ट कर लिया गया। अभी छानबीन जारी है।

गौरतलब हो कि लालगंज कस्बे के सराफा व्यापारी व भाजपा नेता आशीष बाजपेई मंगलवार सुबह गहनों की डिलीवरी करने जगतपुर रामगढ़ी गए हुए थे। वापस आते समय साढ़े ग्यारह बजे जगतपुर रामगढ़ी के निकट सुनसान सड़क पर खड़े एक अज्ञात बदमाश ने डंडे से वार कर दिया था। कुछ ही दूरी पर खड़े बदमाश के अन्य साथी भी उनके पास आ गए और जब तक वे संभलते बदमाश अपने साथियों के साथ उनका गहनों से भरा बैग छीनकर जंगल की ओर भाग गये थे। व्यापारी ने भी कुछ दूर तक उनका पीछा किया था लेकिन तब तक जंगली रास्ते का फायदा उठाकर बदमाश रफूचक्कर हो गए थे।

कथित लुटेरों के गैंग के सरगना रत्नेश यादव उर्फ सोनू ने कबूला कि उन्होंने सर्राफा व्यापारी से लूटे हुए बैग को जंगल मे छिपा दिया था जिसका वह बटवारा कर रहे थे। पुलिस की दबिश पड़ गयी। पुलिस को बदमाशों के पास से काफी मात्रा में सोने चांदी के जेवरात और दो अवैध तमंचे और जिंदा कारतूस आदि बरामद हुए है। आरोपियो के विरुद्ध सम्बंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close