एजुकेशन

सीबीएसई बोर्ड: 10वीं के शीर्ष 13 में आठ विद्याथी यूपी के

कुल 91.10 प्रतिशत रहा रिजल्ट, पिछली बार से 4.40 प्रतिशत अधिक

लखनऊ, लोकसत्य। सीबीएसई बोर्ड ने सोमवार को कक्षा दस का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया। कक्षा दस के शीर्ष 13 में आठ छात्र-छात्राएं उत्तर प्रदेश के हैं। इन्हें 500 में से 499 अंक मिले हैं। इस वर्ष कुल परिणाम 91.10 प्रतिशत रहा है जो पिछली बार से 4.40 प्रतिशत अधिक है। गत वर्ष 2018 में परीक्षा परिणाम 86.70 प्रतिशत रहा था।

 10वीं का रिजल्ट सोमवार दोपहर करीब सवा दो बजे घोषित किया गया। छात्र और छात्राओं ने सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइटcbseresults.nic.in और cbse.nic.in पर देखा। इस बार नतीजों में छात्राओं का दबदबा रहा। 2019 के रिजल्ट में 92.45% छात्राओं ने सफलता हासिल की है। वहीं, छात्राओं का पास फीसदी 90.14% रहा है। पिछले साल छात्राओं का पास फीसदी 88.67 और छात्रों को 85.32% रहा था। सीबीएसई ने कक्षा दस का परिणाम आज अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर ही जारी किया। कक्षा दस की परीक्षा में 17,74299 बच्चों ने पंजीकरण कराया था। जिनमें से 17,61,078 ने परीक्षा दी थी। इनमें 16,04428 बच्चे पास हुए हैं। 2018 में करीब 27 लाख स्टूडेंट्स ने 10वीं की परीक्षा दी थी।

  प्रयागराज जोन का परिणाम 92.55 प्रतिशत के साथ दस में पांचवें स्थान पर रहा। त्रिवेंद्रम जोन का परिणाम 99.85 प्रतिशत रहा। उत्तर प्रदेश के नोएडा का सिद्धांत पेंगोरिया, नोएडा के दिव्यांश वाधवा, जौनपुर के योगेश कुमार गुप्ता, गाजियाबाद के अंकुर मिश्रा, मेरठ के वत्सल वाष्र्णेय, गाजियाबाद के ईश मदान, गाजियाबाद के अपूर्व जैन व नोएडा की शिवानी लाट संयुक्त रूप से शीर्ष पर रहे हैं। इन सभी को 500 में 499 अंक मिले हैं।  

 सीबीएसई दसवीं के परीक्षा परिणाम में देश के 13 टॉपरों में मेरठ के दीवान पब्लिक स्कूल वेस्ट एंड रोड के छात्र वत्सल वार्ष्णेय भी शामिल हैं। वत्सल वार्ष्णेय को 500 में से 499 अंक मिले हैं। वहीं देश में दूसरा स्थान पाने वाले 25 छात्रों में बिजनौर के प्रियंका मार्डन स्कूल के तारुष राजावत भी शामिल हैं। तारुष ने 500 में से 498 अंक प्राप्त किए हैं। देश में तीसरा स्थान पाने वाले 59 छात्रों में से मेरठ के दीवान पब्लिक स्कूल वेस्ट एंड रोड के शुभ अग्रवाल व केएल इंटरनेशल स्कूल के दीपांशु बिसारिया भी शामिल हैं। दोनों को 500 में से 497 अंक मिले।

इंजीनियर बनना चाहते हैं वत्सल 

मेरठ में दीवान पब्लिक स्कूल के वत्सल 499 अंक के साथ नेशनल टॉपर रहे हैं। 10 से 12 घण्टे रोज पढ़ने वाले वत्सल आगे इंजीनियर बनना चाहते हैं। वत्सल के पिता अनुपम और मां तरंग मुजफ्फरनगर मेडिकल कालेज में डॉक्टर हैं। 

सोशल मीडिया से दूर रहने वाले वत्सल को पढ़ाई के अलावा बैडमिंटन खेलने का शौक है। नियमित पढ़ाई और कठिन परिश्रम से सफलता हासिल की। वत्सल को अपने नेशनल टॉपर बनने को लेकर विश्वास नहीं हो रहा था। बार बार लिस्ट देखने के बाद विश्वास हुआ।

डॉक्टर बनना चाहते हैं टॉपर जौनपुर के योगेश कुमार गुप्ता

जौनपुर नगर के सिटी स्टेशन के समीप गुप्ता टिम्बर मार्ट के निवासी सेंटपैट्रिक स्कूल के योगेश कुमार गुप्ता ने सीबीएसई बोर्ड की हाईस्कूल की टॉपर लिस्ट में अपना नाम दर्ज कराकर जिले का गौरव बढ़ाया है। वे प्रतिदिन 5 घण्टे पढ़ाई के साथ ही कोचिंग करते थे।

https://www.jagranimages.com/images/Youi-yogi.jpg

अपनी सफलता का श्रेय पिता रविन्द्र गुप्ता और माता अनीता गुप्ता को देते हैं। इनका मानना है कि पढ़ाई में हार्डवर्क जरूरी है, शॉर्टकट का कोई तरीका नहीं है। उनकी इच्छा डॉक्टर बनने की है। योगेश की सफलता से परिवार में खुशी का माहौल है। 

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close