चुनावबड़ी खबरें

बंगाल में हिंसा को लेकर तृणमूल पर भड़की भाजपा, पुनर्मतदान की मांग की

नयी दिल्ली,लोकसत्य । भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पश्चिम बंगाल में सात लोकसभा सीटों पर मतदान के दौरान राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के ‘गुंडों’ द्वारा बड़े पैमाने पर हिंसा करने का सोमवार को आरोप लगाया और चुनाव आयोग से बैरकपुर सीट पर पुनर्मतदान कराने की मांग की।
भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में बैरकपुर सीट पर पार्टी के उम्मीदवार अर्जुन सिंह पर हिंसक हमले की कड़ी निंदा की और चुनाव आयोग को भी इसके लिए जिम्मेदार ठहराया। पांचवे चरण में राज्य के दक्षिणी भाग की सात सीटों- बनगांव, बैरकपुर, हावड़ा, उलूबेरिया, श्रीरामपुर, हुगली और आरामबाग के लिए आज मतदान हो रहा है।
जावड़ेकर ने कहा कि लोकसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के गुंडे भारी हिंसा पर उतारू हैं। बैरकपुर में तृणमूल कांग्रेस के प्रत्याशी पूर्व केन्द्रीय मंत्री विजय त्रिवेदी के विरुद्ध भाजपा के प्रत्याशी अर्जुन सिंह पर हमला करके बुरी तरह से जख्मी कर दिया। मतदान केन्द्रों पर तृणमूल कांग्रेस के गुंडे अधिकारियों की मिलीभगत से वोटरों के साथ इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन तक जाकर उनकी जगह खुद बटन दबा रहे हैं। इस प्रकार से मतदान में धांधली कराने का काम हो रहा है। तृणमूल कांग्रेस के गुंडे उनकी पार्टी के समर्थकों को छोड़कर अन्य वोटरों को मतदान केन्द्र में घुसने से बलपूर्वक रोक रहे हैं। श्रीरामपुर में भी अनेक बूथों पर ऐसी ही शिकायतें मिल रहीं हैं।
उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में सुश्री ममता बनर्जी वोट से हार रहीं हैं पर धांधली से जीतना चाहतीं हैं। वह चुनाव आयोग को भी धमका रहे हैं। यह लोकतंत्र की विडंबना है कि पूरे बंगाल में हिंसा का तांडव हाे रहा है। भाजपा इसकी कड़ी निंदा करती है। उन्होंने कहा कि हमने मांग की थी कि हर बूथ पर सीसीटीवी कैमरे लगाये जायें। केन्द्रीय सुरक्षा बलों की भी तैनाती की मांग की गयी थी। कुछ दिन पहले ही भाजपा ने चुनाव आयोग को पत्र लिख कर बैरकपुर के पुलिस अधीक्षक को हटाने का अनुरोध किया था लेकिन आयोग ने उसे नहीं हटाया। इसलिए इन घटनाअों के लिए आयोग भी जिम्मेदार है।
उन्होंंने कहा कि चुनाव आयोग ऐसी दशा में केवल प्रेक्षक बन कर बैठा नहीं रह सकता है। आयोग को सख्ती से पेश आना चाहिए आैर पुनर्मतदान कराने का अादेश पारित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा का प्रयास है कि लोकतंत्र बचे और विजयी हो। उन्होंने बताया कि पार्टी चुनाव आयोग में पुन: इसकी शिकायत करेगी और ज्ञापन सौंप कर अपनी मांगें दोहरायेगी।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close