लाइफस्टाइलहेल्थ

5 साल पहले ब्रेस्ट कैंसर की संभावना का पता चलेगा

न्यूर्याक (लोकसत्य)। अगर फंड्स से जुड़ी दिक्कत नहीं आई तो जल्द ही ऐसा ब्लड टेस्ट उपलब्ध हो सकेगा, जिसके जरिए बॉडी में ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण उभरने से 5 साल पहले ही ब्रेस्ट कैंसर होने की संभावना का पता चल सकता है। यूके में की जा रही इस रिसर्च से जुड़े शोधकर्ताओं का कहना है कि ‘ब्लड टेस्ट के जरिए ब्रेस्ट कैंसर का पता शुरुआती चरण में लगने से यह टेस्ट उन देशों के लोगों के लिए खासतौर पर उपयोगी साबित होगा, जो मिडिल और लो इनकम कैटिगरी में आते हैं। साथ ही यह स्क्रीनिंग मेथड ब्रेस्ट कैंसर की जांच के लिए फिलहाल यूज किए जा रहे तरीकों, जैसे मेमोग्रफी की तुलना में काफी आसान भी रहेगा।’ वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन की रिपोर्ट के अनुसार, हर साल लगभग 2,1 मिलियन महिलाएं ब्रेस्ट कैंसर का शिकार होती हैं। एक अनुमान के अनुसार पिछले साल ब्रेस्ट कैंसर के कारण दुनियाभर में 6 लाख 27 हजार महिलाओं की मृत्यु हुई। यह अन्य प्रकार के कैंसर से होनेवाली महिलाओं की मृत्यु का करीब 15 प्रतिशत है। शोधकर्ता आगे कहते हैं” हमें इस शोध पर आगे काम करने और इसे अधिक विकसित करने की जरूरत है। हालांकि ब्रेस्ट कैंसर से जुड़े इस शोध में हमारे लिए यह बात साफ हुई है कि ब्रेस्ट कैंसर होने से पहले ही इसके प्रारंभिक लक्षणों को पहचाना जा सकता है। एक बार हम इस शोध की एक्यूरेसी को इंप्रूव कर लेते हैं तो यह बात एकदम पुख्ता हो जाएगी कि एक सिंपल ब्लड टेस्ट के जरिए ब्रेस्ट कैंसर होने से पहले ही इसके होने की संभावना को पहचानकर इससे बचाव की दिशा में काम किया जा सकेगा। अपने शोध में डॉक्टर्स ने उन 90 पेशंट्स के ब्लड के नमूने लिए जिनका ब्रेस्ट कैंसर का इलाज चल रहा है और 90 उन पेशंट्स के ब्लड सेंपल लिए जो पूरी तरह स्वस्थ हैं। अब शोधकर्ता 800 मरीजों के सेंपल लेकर उन्हें 9 अलग-अलग पैरामीटर्स पर टेस्ट कर रहे हैं। ताकि पूर्व में किए गए शोध की एक्यूरेसी को फिर से परखा जा सके और कुछ अलग दिशाओं में भी जांच को आगे बढ़ाया जा सके।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close