लाइफस्टाइल

ये घरेलू उपाय दूर करेंगे नींद की बीमारी को…

नई दिल्ली (लोकसत्य)। नींद न आने की बीमारी को मेडिकल भाषा में इंसोमनिया कहते हैं। इस बीमारी से पीडि़त लोगों को रात में नींद नहीं आती है। ऐसे में उन्हें दूसरी शारीरिक परेशानियां शुरू हो जाती हैं। अनिद्रा रोग यानी इंसोमनिया से ठीक होने के लिए यदि आप ये घरेलू उपाय कर लें तो बिना दवाई के ठीक हो सकते हैं।

इंसोमनिया यानी अनिद्रा रोग एक तरह की बीमारी है। इससे तुरंत तो परेशानी नहीं होती है लेकिन धीरे धीरे यह शरीर के लिए घातक बनती जाती है। इस बीमारी से ग्रसित मरीजों को रात के समय नींद नहीं आती है। लोग ऐसा मानते हैं कि इसे बिना दवा के ठीक नहीं किया जा सकता है, लेकिन विशेषज्ञों के मुताबिक ऐसा बिल्‍कुल भी नहीं है।

जानकार बताते हैं कि यह कोई बीमारी नहीं है। यह कई तरह के कारणों जैसे तनाव, शरीर में हार्मोंस का बदलाव, जीवनशैली, खराब भोजन और उल्‍टी पुल्‍टी दिनचर्या की वजह से यह समस्‍या हो जाती है। कई मामलों में यह समस्‍या लापरवाही के चलते शुरू होती है और बाद में हैबिट बन जाती है। सोने से पहले मोबाइल से दूरी बनाना सबसे पहला और प्रथम उपाय है।

विशेषज्ञ मानते हैं कि समस्‍या से छुटकारा पाने का आसान तरीका कोई दवा नहीं बल्कि जीवनशैली में कुछ बदलाव हैं। अगर आप नींद न आने की समस्‍या से जूझ रहे हैं तो आपको लैवेंडर ऑइल का छिड़काव सोने से पहले बिस्‍तर और तकिये पर करना चाहिए। इसकी खुशबू मन को शांत करती है और नींद आने में आसानी हो जाती है।

होटल के बेड पर अक्‍सर जाते ही नींद और सुकून मिल जाताा है। क्‍योंकि वहां सफाई अच्‍छे से होती है। लिहाजा आप अपने बेडरूप की ठीक से सफाई करें और बेड शीट तकिए का कवर साफ रखें। इसके अलावा पैरदान भी साफ होना बेहद जरूरी है क्‍योंकि इससे पैरों में जर्म्‍स आने से खुजली आदि हो सकती है जो नींद को रोक सकती है।

विशेषज्ञ इंसोमनिया को खत्‍म करने के जीवन शैली में बदलाव की बात करते हैं। ऐसे लोग सुबह सूरज की किरणों के सामने कम से कम आधे घंटे तक जरूर बैठें। इससे शरीर को मिलने वाली विटामिन से शरीर ऊर्जावान बनता है। भोजन में वसा की मात्रा बेहद कम हो और ज्‍यादा प्रोटीनयुक्‍त भोजन न करें। खासकर शाम के वक्‍त हल्‍का भोजन उचित है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close