देश

छत्तीसगढ़ की बस्तर सीट पर कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बीच आज मतदान

रायपुर, लोकसत्य। छत्तीसगढ़ की घुर नक्सल प्रभावित बस्तर संसदीय सीट पर नक्सल हमले में विधायक समेत पांच जवानों की कल हुई मौत से उत्पन्न भय के माहौल में कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बीच कल 11 अप्रैल को मतदान होगा। राज्य निर्वाचन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार कल हुए नक्सली हमले के मद्देनजर सुरक्षा प्रबंधों को और कड़ा कर दिया गया है।आयोग ने भयमुक्त होकर मतदान करवाने के लिए सभी संभव प्रबंध किए है।राज्य निर्वाचन अधिकारी ने कल रात सुरक्षा प्रबंधों की एक बाऱ फिर समीक्षा की।मतदान को सम्पन्न करवाने में लगे अधिकारियों कर्मचारियों के साथ ही मतदाताओं की सुरक्षा के लिए के बन्दोबस्त पर नए सिरे से विचार हुआ।  बस्तर संसदीय क्षेत्र पांच जिलों में फैला हुआ है और इसमें आठ विधानसभा क्षेत्र पड़ते है।क्षेत्र में 1880 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। इसमें दो सहायक मतदान केंद्र शामिल हैं।इसमें 224 अति संवेदनशील मतदान केंद्र हैं वहीं 512 संवेदनशील मतदान केंद्र हैं।बस्तर लोकसभा क्षेत्र के दुर्गम 72 मतदान दलों को मतदान केंद्रों तक पहुंचाने का काम सोमवार से ही शुरू हो चुका गया था।इसके लिए हेलीकॉप्टरों की मदद ली जा रही है। मंगलवार को 129 मतदान दलों को सड़क मार्ग और हेलीकाप्टर से रवाना किया गया। इनमें अति संवेदनशील क्षेत्र कोलेंग, कांदानार, छिंदगुर और मुण्डागढ़ के मतदान दल भी शामिल है।ये दल कल रात कोलेंग स्थित सुरक्षा कैम्प में रहें और इन्हें आज नियत मतदान केन्द्रों में पहुंचा दिया गया है।इस क्षेत्र में 13 लाख 77 हजार 946 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। कुल मतदाताओं में 7 लाख 15 हज़ार 550 महिलाएं,6 लाख 62 हज़ार 355 पुरुष तथा 41 तृतीय लिंग के मतदाता हैं। इस सीट पर सात प्रत्याशी मैदान में हैं।इस सीट पर आयतू राम मंडावी( बसपा) दीपक बैज(कांग्रेस) बैदूराम कश्यप( भारतीय जनता पार्टी) रामू राम मौर्य( कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया) पनीष प्रसाद नाग(अंबेडकराईट पार्टी ऑफ इंडिया)मंगलाराम कर्मा( अखिल भारत समग्र क्रांति पार्टी) तथा सुरेश उर्फ सरगीम कवासी (शिवसेना) चुनाव लड़ रहे है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close