देशबड़ी खबरें

भगवा में आातंक के दाग मिलाने की साजिश के पाप से बच नहीं पाएगी कांग्रेस : मोदी

छैगांव माखन लोकसत्य । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बिना किसी का नाम लिए कांग्रेस और पार्टी के नेताओं पर हमले बोलते हुए कहा कि भगवा में आतंक के दाग मिलाने की साजिश करने वाले इसके पाप से कभी नहीं बच पाएंगे। मोदी ने मध्यप्रदेश के खंडवा संसदीय क्षेत्र के छैगांव माखन में पार्टी प्रत्याशी नंदकुमार सिंह चौहान के पक्ष में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस को लगातार निशाने पर लिया। उन्होंने पिछले दिनों कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा के वर्ष 1984 के दंगों में सिखों के नरसंहार पर दिए कथित बयान ‘हुआ तो हुआ’ को भी जमकर निशाने पर लिया।
मोदी ने कहा कि पूर्ववर्ती शासन में पाकिस्तान के पाले आतंकवादी जब हमला करते थे तो ये निर्दोषों को जेल में ठूंस देते थे। इन्होंने हिंदू आतंकवाद का कुतर्क साजिशन सिर्फ वोट बैंक के लिए गढा। उसका जवाब आज इन्हें मिल रहा है। उन्होंने कहा कि ये कितने भी हवन करा लें, पुलिस को भगवा ड्रेस सिलवा दें, लेकिन भगवा में जो आतंक के दाग लगाने की साजिश की, उस पाप से ये कभी नहीं बच पाएंगे। उन्होंने कहा कि उनके साथ उनके काम हैं, जबकि विरोधियों के साथ उनके कारनामे हैं।
प्रधानमंत्री ने कर्जमाफी को लेकर भी कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस ने झूठ और वादाखिलाफी की। मध्यप्रदेश की ये खबर पूरे हिंदुस्तान में पहुंच गई है। देश गलती माफ करता है, लेकिन झूठ और अविश्वास नहीं करता। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सोच ‘हुआ तो हुआ’ की है।
उन्होंने बिना किसी का नाम लिए आरोप लगाया कि जनता की नजरों में 1984 के दंगों के गुनाहगार को कांग्रेस ने मध्यप्रदेश पर थोप दिया। भोपाल में हजारों लोगों की जान लेने वाले गैस कांड के गुनाहगार को सरकारी विमान में भगा दिया। अगर आज जनता इस बारे में पूछेगी तो कांग्रेस ‘हुआ तो हुआ’ का ही जवाब देगी।
मोदी ने कांग्रेस पर आदिवासी परिवारों में भी भ्रम फैलाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस जनजातीय परिवारों में झूठ फैला रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने कभी आदिवासियों की जमीन पर आंच नहीं आने दी। वे यहां तक कह गए कि जब तक मोदी और भाजपा है, जब तक आदिवासी अधिकारों को खरोंच तक नहीं आने दी जाएगी।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close