उत्तर प्रदेशदेश

महोबा मामले की हो CBI जांच :AAP

लखनऊ। उत्तर प्रदेश आम आदमी पार्टी (आप) ने महोबा में कातिलाना हमले के शिकार विस्फोटक कारोबारी इंद्रकांत त्रिपाठी के परिजनो को सुरक्षा मुहैया कराने और मामले की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के हवाले किये जाने की मांग की है। आप के प्रवक्ता ने सोमवार को बताया कि पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने आज महोबा जाकर दिवंगत कारोबारी इंद्रकांत त्रिपाठी के परिजनो से मुलाकात की और न्याय दिलाने के लिए हर स्तर पर संघर्ष का आश्वासन दिया।

मृतक व्यापारी के बड़े भाई कृष्ण कांत त्रिपाठी ने प्रतिनिधिमंडल को बताया कि इंद्रकांत का वीडियो और ऑडियो सामने आने के पूर्व तक पुलिस सहयोग कर रही थी। अंतिम संस्कार के बाद ही पुलिस ने गुंडई शुरू कर दी। भाई के सगे कारोबारी मित्रों और परिवार के विश्वसनीय लोगों बाल किशोर द्विवेदी और पुरुषोत्तम सोनी को उठाकर उत्पीड़न करना शुरू कर दिया। अंतिम संस्कार के बाद कबरई रोड से ही इनको पुलिस ने गीले कपड़ों में ही गिरफ्तार कर लिया। लाख मन्नत के बावजूद किसी को कपड़ा तक बदलने का मौका तक नहीं दिया गया। उन्हे धमकाया गया। मौके पर चार जिलों की फोर्स मौजूद थी।

पार्टी प्रवक्ता के अनुसार परिजनो ने आशंका जताई कि उन्हे फर्जी मामले में जेल भेजा जा सकता है ताकि एसपी और एसओ कबरई बच जाएं। यह लोग पुलिस को बचाना चाहते हैं। उनकीमांग है कि परिवार को न्याय मिले। जो एफआईआर में नामजद है, उनको गिरफ्तार किया जाए और अज्ञात के नाम से इनको परेशान न किया जाए।


उन्होने आरोप लगाया कि योगी सरकार प्रदेश के अंदर लूट,डकैती, बलात्कार, अपहरण और हत्या की घटनाओं को नहीं रोक पा रही,उल्टे हत्या के मामले के आरोपी एसपी को गिरफ्तार करने की बजाय मृतक के कारोबारी दोस्तों तथा परिवार के नजदीकी लोगों को गुंडई पूर्वक गिरफ्तार कर रही है। किसी को बता भी नहीं रही थी उनको आखिर ले कहां गई। पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने तथा कानून व्यवस्था बहाल करने के लिए इस मामले की सीबीआई से जांच कराई जाए।

प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश उपाध्यक्ष रमन सिंह व काजी इमरान लतीफ, प्रदेश अध्यक्ष महिला शक्ति नीलम यादव, प्रदेश सचिव सोमपाल, प्रदेश अध्यक्ष सीवाईएसएस बंशराज दुबे शामिल रहे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close