केरलचुनावतमिलनाडुदेशपश्चिम बंगालबड़ी खबरेंराज्य

असम, बंगाल, केरल, तमिलनाडु और पुड्डुचेरी में Assembly Elections की घोषणा, जानें चरण और तारीख

नई दिल्ली (लोकसत्य)। निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल और असम समेत चार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश पुड्डुचेरी में विधानसभा चुनावों की घोषणा कर दी।

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोरा ने संवाददाता सम्मेलन में असम, पश्चिम बंगाल, केरल और तमिलनाडु तथा पुड्डुचेरी में अलग-अलग चरणों में मतदान की तारीखों की घोषणा की। असम में तीन चरणों में तथा राजनीतिक रूप से चर्चित पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में मतदान कराने की घोषणा की गयी। तमिलनाडु, केरल और पुड्डुचेरी में एक चरण में चुनाव कराये जायेंगे।

उन्होंने बताया कि पहले चरण का मतदान 27 मार्च को होगा, जबकि अंतिम चरण 29 अप्रैल को होगा। सभी विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना दो मई को होगी। तमिलनाडु, केरल और पुड्डचेरी में एक ही चरण में छह अप्रैल को मतदान होगा।

अरोरा के अनुसार, असम में पहले चरण के चुनाव के लिए दो मार्च को अधिसूचना जारी कर दी जायेगी, जबकि दो अन्य चरणों के लिए पांच मार्च और 10 मार्च को अधिसूचना जारी होगी। इस राज्य में 27 मार्च, एक अप्रैल और छह अप्रैल को मतदान कराये जायेंगे।

इन सभी राज्यों में 824 विधानसभा सीटों पर चुनाव कराये जायेंगे जिनमें 18 करोड़ 68 लाख मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इसके लिए दो लाख 70 हजार मतदान केंद्र बनाये गये हैं।

अरोरा ने बताया कि चुनाव कार्य सम्पन्न कराने वाले सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को फ्रंटलाइन वॉरियर माना गया है। पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में 27 मार्च, एक, छह , दस, 17, 22, 26 और 29 अप्रैल को मतदान होगा। इस राज्य में पहले चरण के मतदान के लिए दो मार्च को अधिसूूचना जारी कर दी जाएगी।

असम सरकार का कार्यकाल 31 मई को, पश्चिम बंगाल सरकार का कार्यकाल 30 मई को, केरल सरकार का कार्यकाल एक जून को, तमिलनाडू सरकार कार्यकाल 24 मई को और पुड्डूचेरी का कार्यकाल आठ जून काे समाप्त हो रहा है।

असम में 126 विधानसभा सीटों पर चुनाव कराया जाएगा जबकि पश्चिम बंगाल की 294 सीटों पर, केरल में 140 सीटों पर, तमिलनाडू में 234 सीटों पर और पुड्डूचेरी की 30 सीटों पर मतदान होगा।

अरोरा ने कहा कि सभी राज्यों में शांतिपूर्ण, निष्पक्ष एवं स्वतंत्र मतदान कराने के लिए पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। पूरी चुनाव प्रक्रिया के दौरान कोविड दिशा निर्देशों को पूरी तरह से पालन सुनिश्चित किया जाएगा। घर घर जाकर चुनाव प्रचार करने के लिए केवल पांच लोगों को एकत्र हाेने की अनुमति होगी।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close