दिल्लीदेशबड़ी खबरेंमहाराष्ट्र

Bhima Koregaon: नवलखा मामले में दिल्ली High Court का आदेश निरस्त

नई दिल्ली(लोकसत्य)। Supreme Court ने महाराष्ट्र के Bhima Koregaon हिंसा मामले में दिल्ली High Court के उस आदेश को सोमवार को निरस्त कर दिया, जिसमें उसने आरोपी गौतम नवलखा को दिल्ली से मुंबई स्थानांतरित करने से संबंधित पेशी वारंट रिकॉर्ड पेश करने का राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को निर्देश दिया था।

Court ने कहा कि दिल्ली High Court को अपने अधिकार क्षेत्र का अतिक्रमण नहीं करना चाहिए था।

न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, न्यायमूर्ति नवीन सिन्हा और न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी की खंडपीठ ने दिल्ली High Court के गत 27 मई के आदेश को चुनौती देने वाली एनआईए की अपील मंजूर करते हुए जांच एजेंसी के खिलाफ की गयी अनावश्यक टिप्पणी को भी हटाने का निर्देश दिया।

जांच एजेंसी ने High Court के उस आदेश के खिलाफ अपील दायर की थी, जिसमें दिल्ली और मुंबई में एनआईए की विशेष अदालत के सामने चल रही कार्यवाही का वह रिकॉर्ड मांगा गया था, जिसके आधार पर नवलखा को दिल्ली से मुंबई स्थानांतरित कर दिया गया था। जांच एजेंसी ने इसे चुनौती देते हुए कहा था कि मामले की सुनवाई के लिए दिल्ली High Court के पास अधिकार क्षेत्र नहीं है।

दिल्ली High Court ने अपने आदेश में कहा था कि नवलखा की अंतरिम जमानत की याचिका लंबित होने के दौरान ही उन्हें मुंबई ले जाने को लेकर एनआईए ने अनावश्यक जल्दबाजी की थी।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close