देश

बजट विकास को बढ़ाएगा और अर्थव्यवस्था में मांग फिर से पैदा होगी:राजनाथ सिंह

नई दिल्ली, लोकसत्य। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर वित्त वर्ष 2020-21 के लिए पेश किये गये बजट की रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सराहना की। उन्होंने कहा कि यह विकास को बढ़ायेगा और अर्थव्यवस्था में मांग फिर से पैदा करेगा। सिंह ने कहा कि यह बजट न केवल निवेश अनुकूल है बल्कि यह किसानों की आय को दोगुना करने और भारतीय उद्योगों को स्थिर करने में महत्वपूर्ण साबित होगा।

रक्षा मंत्री ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश किये गये नये दशक का पहला बजट नये और आत्मविश्वासी भारत की रूपरेखा पेश करता है। यह एक आशाजनक, सक्रिय और प्रगतिशील बजट है जो आने वाले वर्षों में देश को और समृद्ध बनाएगा। उन्होंने कहा कि बजट में सभी वर्गों के कल्याण और विकास पर स्पष्ट ध्यान केंद्रित है इसमें किसानों पर विशेष ध्यान दिया गया है।

उन्होंने कहा कि सीतारमण द्वारा घोषित कदमों से निश्चित रूप से विकास को गति मिलेगी और रोजगार के नये अवसर पैदा होंगे। सिंह ने कहा कि बजट में निवेशकों, करदाताओं और पूंजी सृजित करने वालों को कर उत्पीड़न के खिलाफ सुरक्षा का आश्वासन देकर निश्चितता का एक माहौल बनाने का वादा भी किया गया है।

उन्होंने कहा कि इस वर्ष बजट में पेश किए गए नए कर सुधार अत्यंत प्रगतिशील, साहसिक और प्रकृति से अभूतपूर्व हैं। नई कर प्रणाली से आम आदमी पर कर का बोझ कम होगा। यह एक कुशल कर प्रणाली का मार्ग प्रशस्त करेगा। रक्षा मंत्री ने सीतारमण को नई तकनीकों जैसे क्षेत्रों में नीतिगत हस्तक्षेप के प्रस्ताव के लिए भी बधाई दी।

रक्षामंत्री ने कहा कि बजट प्रस्तावों ने 2024-25 तक पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए सशक्त रूप से एक नींव रखी है। उन्होंने कहा कि लोगों की आकांक्षाओं को ध्यान में रखते हुए देश को एक उत्कृष्ट बजट देने के लिए मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और वित्त मंत्री को बधाई देता हूं। इसमें हमारे राष्ट्रीय उद्देश्यों और प्राथमिकताओं को भी रेखांकित किया गया है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close