देश

होर्टिकल्चर 311 मिलियन टन के साथ आगे निकला, वन प्रॉडक्ट-वन डिस्ट्रिक्ट स्कीम बनाएंगे:निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली, लोकसत्य। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का दूसरा बजट वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में पेश किया। अब रेल बजट भी आम बजट के साथ पेश किया जाता है।  होर्टिकल्चर 311 मिलियन टन के साथ ये अन्न उत्पादन के आगे निकल चुका है। हम राज्यों को मदद करेंगे। वन प्रॉडक्ट वन डिस्ट्रिक्ट का स्कीम बनाएंगे।

वित्त मंत्री ने बजट में किसानों के लिये प्रस्तावित योजनाओं को पेश करते हुये कहा कि 5 लाख किसानों को ग्रिड कनेक्टेड पंपसेट से जोड़ा जाएगा। 162 मिलियन टन के भंडारण की क्षमता है। नाबार्ड इसे जियोटैग करेगा। नए बनाए जाएंगे। ब्लॉक और ताल्लुक के स्तर पर बनेंगे। राज्य सरकार जमीन दे सकती है। एफसीआई अपनी जमीन पर भी बना सकती है। सेल्फ हेल्प ग्रुप के जरिए विलेज स्टोरेज स्कीम। कृषि उड़ान लांच किया जाएगा। ये प्लेन कृषि मंत्रालय की तरफ से चलेंगे।

उन्होंने बताया कि पंप सेट को सौर ऊर्जा से जोड़ने का प्रयास किया जाएगा। 20 लाख किसानों को सोलर प्लांट दिए जाएंगे। उन राज्यों को प्रोत्साहित किया जाएगा जो केंद्र के मॉडल लॉ को मानेंगे। अन्नदाता ऊर्जादाता भी है। पीएम कुसुम स्कीम से फायदा हुआ है। अब हम 20 लाख किसानों को सोलर पंप देंगे। हमारी सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लिए प्रतिबद्ध है। कृषि को प्रतिस्पर्धात्मक बनाकर किसानों की उन्नति सुनिश्चित की जा सकती है।

बजट प्रस्तावों में निर्मला सीतारमण ने पानी की समस्या से जूझ रहे 100 जिलों के लिए व्यापाक उपाय किए जाने का प्रस्ताव भी दिया। साल 2009-14 के दौरान मुद्रास्फीति 10.5 फीसदी के दायरे में थी। हम दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी इकॉनमी हैं। भारत में 2014-19 के दौरान 284 अरब डॉलर विदेशी प्रत्यक्ष निवेश आया। 2009-14 के दौरान यह आंकड़ा 190 अरब डॉलर था। सरकार का कर्ज घटा है। प्रत्यक्ष विदेशी निवेश बढ़ा है। केंद्र सरकार का ऋण घटकर अब 48.7 फीसदी पर आ गया है। इस बजट में तीन बिंदुओं पर फोकस किया जा रहा है, उम्मीदों का भारत, इकोनॉमिक डेवलेपमेंट और केयरिंग समाज।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close