देश

पीएम मोदी कभी दबाव की राजनीति से प्रभावित नहीं होते: Jagat Prakash Nadda

नई दिल्ली (लोकसत्य)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष Jagat Prakash Nadda ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देश की राजनीतिक संस्कृति में बदलाव लाने का श्रेय देते हुए कहा कि वह कभी भी दबाव की राजनीति के असर में नहीं आते हैं और जो लोगों के हित है, उसे करके रहते हैं।

नड्डा ने यहां भाजपा मुख्यालय में मोदी के 70वें जन्मदिन के अवसर पर पार्टी के मुखपत्र कमल संदेश के विशेषांक के लोकार्पण के मौके पर एक संक्षिप्त समारोह को संबोधित करते हुए कहा, “राजनीति में कई सरकारें हमने देखी हैं। मोदी के नेतृत्व में कार्य, हम और पूरी दुनिया जो देखती है, वह सिर्फ कोई कार्यक्रम या नीति लागू कराने तक ही नहीं है, बल्कि उन्होंने राजनीतिक संस्कृति को भी बदला है।”

उन्होंने कहा कि क्या किसी ने सोचा था कि आजाद भारत में करीब 18 हजार गांव, ढाई करोड़ लोग बिना बिजली के रहते थे, दो वक्त की रोटी तक कई लोगों को नहीं मिल पाती थी, गंभीर बीमारी से बचने के लिए कोई माध्यम नहीं था लेकिन माेदी उज्ज्वला योजना, सौभाग्य योजना, आयुष्मान भारत, जन-धन खाते जैसी योजनाएं लाये जो उन लोगों के लिए थे, जिनका कोई नहीं था। उन्होंने कहा, “मोदी के नेतृत्व की विशेषता है कि कभी दबाव की राजनीति के असर में नहीं आना है। जो लोगों के लिए उचित है, उसे करने में कोई कोताही नहीं बरतनी है। लोगों के हित के लिए सभी कार्य करने हैं।”

भाजपा अघ्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में कहा था, “हम कृषि उपज विपणन समिति (एपीएमसी) से किसानों को बाहर लाएंगे, आवश्यक वस्तु अधिनियम में जंग लग गया है, उसे हम बदल डालेंगे। मोदी ने ये आज कर दिखाया। जो लोग इसका विरोध कर रहे हैं, वे बिचौलियों की भाषा बोल रहे हैं, किसानों की नहीं।”

उन्होेंने कहा कि पहले किसान गुलामी के दौर में थे। मोदी ने कहा कि इससे हम किसानों को आजाद करते हैं। किसान चाहे अनाज मंडी से अपनी फसल बेचे या देश के किसी कोने में अपनी फसल बेचे, उसको आजादी है, इसका प्रावधान इन विधेयकों में है। इसके साथ ही एपीएमसी और एमएसपी भी चलेगा। जो उसमें जाना चाहते हैं, जा सकते हैं। लेकिन बिचौलियों के साथ मिले लोग ये कोशिश कर रहे हैं कि किसानों को गुमराह किया जाए।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मोदी के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में सेवा सप्ताह मनाया जा रहा है। कई तरह के सेवा कार्यक्रम इस दौरान चलाए जा रहे हैं। स्वास्थ्य प्रोटोकॉल को ध्यान में रखकर करोड़ों कार्यकर्ता सेवा कार्य कर रहे हैं। उन्होंने डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी न्यास की तरफ से कमल संदेश का विशेषांक निकाले जाने पर न्यास के सभी पदाधिकारियों को बधाई दी। इस विशेषांक में मोदी के बाल्यकाल से आज तक उनके द्वारा किए गए कार्यों, उनके फैसलों को लेकर प्रकाश इसमें डाला गया है।

कार्यक्रम में भाजपा के महासचिव अरुण सिंह और डॉ अनिल जैन, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी न्यास के सचिव नंदकिशोर गर्ग, कोषाध्यक्ष गोपाल कृष्ण अग्रवाल, कमल संदेश के कार्यकारी संपादक डॉ शिवशक्ति बख्शी और सहायक संपादक संजीव सिन्हा भी उपस्थित थे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close