स्पोर्ट्स

राजस्थान के सामने बेंगलुरु के विजयी क्रम को रोकने की होगी चुनौती

मुंबई (लोकसत्य) आईपीएल 14 की अभी तक की नंबर एक टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) और छठे नंबर की टीम राजस्थान रॉयल्स (आरआर) के बीच यहां गुरुवार को दिलचस्प मुकाबला होगा। राजस्थान के पास न केवल यह मुकाबला जीत कर दो बहुमूल्य अंक प्राप्त करने, बल्कि आरसीबी के विजयी क्रम को रोकने की भी चुनौती होगी।

राजस्थान की टीम फिलहाल तीन मैचों में दो हार और एक जीत के साथ दो अंक लेकर छठे स्थान पर है, जबकि बेंगलुरु तीन में से तीन मैच जीत कर छह अंकों के साथ शीर्ष पर है। इस मैच में हार राजस्थान को और नीचे धकेल सकती है, जहां से वापसी करना अमूमन बहुत मुश्किल होता है।

राजस्थान के लिए इस सीजन सबसे बड़ी समस्या उसकी गेंदबाजी रही है। वहीं उसकी बल्लेबाजी में भी वो धाक नहीं दिखी है जिसकी सबको उम्मीद थी। अच्छी गेंदबाजी न होने की वजह से राजस्थान को अपने पहले और तीसरे मुकाबले में क्रमश: पंजाब किंग्स और चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ बड़े स्कोर का लक्ष्य मिला था, हालांकि पहले मैच में कप्तान संजू सैमसन (119) के आतिशी शतक ने गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन को छुपा दिया था, लेकिन तीसरे मैच में ऐसा नहीं हुआ।

राजस्थान ने अपने तीनों ही मैचों में एक रणनीति के तहत पहले गेंदबाजी करते हुए लक्ष्य का पीछा करने को प्राथमिकता दी है, लेकिन वह केवल एक ही मैच में लक्ष्य का पीछा कर पाया है। कहीं न कहीं इसका एक प्रमुख कारण मध्य क्रम की विफलता भी रहा है। पहले मैच को छोड़ दें तो पिछले दो मैचों में मध्य क्रम के बल्लेबाज ज्यादा कुछ नहीं कर पाए हैं। यहां यह भी कहना गलत नहीं होगा कि राजस्थान को अनुभवी ऑलराउंडर बेन स्टोक्स और तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की भी कमी खल रही है। स्टोक्स की जगह डेविड मिलर को टीम में शामिल करके बल्लेबाजी में तो संतुलन आया है, लेकिन आर्चर जैसे गेंदबाज की उचित रिप्लेसमेंट नहीं हो पाई है।

आरसीबी की बात करें तो उसके लगभग सभी खिलाड़ी फार्म में हैं। खासकर ग्लेन मैक्सवेल और मिस्टर 360 एबी डिविलियर्स शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। आईपीएल के पिछले कुछ सत्रों में फ्लॉप रहे मैक्सवेल ने मौजूदा सीजन के तीन मैचों 178 रन बनाए हैं, जिसमें आठ छक्के भी शामिल हैं। वहीं हर्षल पटेल, मोहम्मद सिराज और काईल जेमिसन ने अच्छी गेंदबाजी की है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close