स्पोर्ट्स

चयन समिति की बैठक स्थगित, नयी तारीखों की घोषणा जल्द

नयी दिल्ली (लोकसत्य)। आईसीसी विश्वकप के सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गयी भारतीय क्रिकेट टीम के अगले महीने होने वाले वेस्टइंडीज़ दौरे के लिये शुक्रवार को होने वाली चयनक समिति की बैठक स्थगित कर दी गयी है और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) नयी तारीखों की घोषणा जल्द करेगा। 
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का संचालन देख रही प्रशासकों की समिति (सीओए) ने गुरूवार को निर्देश दिया था कि बीसीसीआई के सचिव अब चयन समिति की बैठक नहीं बुला सकेंगे और सम्बंधित चयन समितियों के अध्यक्ष के पास यह अधिकार रहेगा कि वे चयन समिति की बैठक बुलाएं।
सीओए का यह निर्देश भारत के वेस्ट इंडीज दौरे के लिए शुक्रवार को बुलाई गयी चयन समिति की बैठक से एक दिन पहले आया और इस निर्देश के कुछ घंटे बाद यह खबर आ गयी कि चयन समिति की बैठक स्थगित कर दी गयी है और बैठक के लिए नयी तारीख जल्द घोषित की जायेगी। भारतीय टीम अगले महीने वेस्टइंडीज़ दौरे पर पहुंचेगी जिसकी शुरूआत तीन अगस्त से होनी है।
भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच 3 से 6 अगस्त तक ट्वंटी 20 सीरीज़ खेली जानी है जबकि वनडे मैच 8 से 14 अगस्त तक होने हैं। वहीं दो टेस्टों की सीरीज़ 22 अगस्त से 3 सितंबर तक होगी।
टीम चयन में सभी निगाहें महेंद्र सिंह धोनी के चयन पर रहेंगी। इंग्लैंड में हुये विश्वकप से पूर्व अटकलें लगायी जा रही थीं कि धोनी के करियर का यह आखिरी विश्वकप होगा जिसके बाद वह संन्यास की घोषणा कर सकते हैं। लेकिन धोनी अभी भी टीम के साथ बने हुये हैं और उनके भविष्य को लेकर संशय की स्थिति भी बरकरार है। ऐसे में सभी की निगाहें इस बात पर लगी हैं कि वेस्टइंडीज़ दौरे की सीमित ओवर टीम में विकेटकीपर बल्लेबाज़ को जगह मिलेगी या नहीं।
वहीं टीम चयन में निगाहें कप्तान विराट कोहली पर भी लगी रहेंगी जिन्हें काफी समय से आराम दिये जाने की चर्चा चल रही है। माना जा रहा है कि विराट इस दौरे से विश्राम ले सकते हैं। इसके अलावा तेज़ गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह को भी विंडीज़ दौरे पर आराम दिया जा सकता है। बुमराह विश्वकप में काफी सफल रहे थे।
विश्वकप में भारतीय टीम के सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो जाने के बाद 38 वर्षीय धोनी के भविष्य को लेकर कई तरह की अटकलें लगायी जा रही थीं जिनका प्रदर्शन आईसीसी टूर्नामेंट में औसत रहा था और अपनी धीमी बल्लेबाज़ी के लिये उन्हे काफी आलोचना भी झेलनी पड़ी थी।
उम्मीद की जा सकती है कि चयनकर्ता धोनी के बजाय विंडीज़ दौरे के लिये युवा विकेटकीपर रिषभ पंत को मौका दें जिन्हें काफी समय से धोनी का उत्तराधिकारी भी माना जा रहा है। भारत को ऑस्ट्रेलिया में अगले वर्ष ट्वंटी 20 विश्वकप खेलना है। धोनी को गत वर्ष अक्टूबर में वेस्टइंडीज़ और आस्ट्रेलिया दौरे में ट्वंटी 20 सीरीज़ में भी जगह नहीं दी गयी थी।
उल्लेखनीय है कि चयनकर्ता प्रमुख एमएसके प्रसाद ने भी विंडीज़ दौरे के लिये टीम चयन से पूर्व कहा था कि धोनी का टीम में चयन निर्धारित नहीं है। साफ है कि आगामी ट्वंटी 20 विश्वकप को देखते हुये बोर्ड नये चेहरों को टीम में मौका दे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार प्रसाद जल्द ही धोनी से उनके करियर काे लेकर बात कर सकते हैं। पूर्व कप्तान की जगह विकेटकीपिंग के लिये पंत को पहली पसंद माना जा रहा है जिन्हें विश्वकप में चोटिल ओपनर शिखर धवन की जगह टीम में लिया गया था।
वर्तमान में भारत ए टीम वेस्टइंडीज़ दौरे पर है जहां वह पांच गैर आधिकारिक वनडे मैचों की सीरीज़ में 3-0 से अपराजेय बढ़त बना चुकी है। टीम के कप्तान मनीष पांडे, शुभमन गिल, श्रेयस अय्यर, क्रुणाल पांड्या का अब तक इस सीरीज़ में प्रदर्शन बेहतरीन रहा है और चयनकर्ता मध्यक्रम में चौथे नंबर की अनसुलझी गुत्थी सुलझाने के लिये इनमें से किसी को मौका दे सकते हैं। भारत ए के तीसरे मैच में मनीष 100 रन की पारी खेलकर मैन ऑफ द मैच रहे थे।
कर्नाटक के मयंक अग्रवाल भी मध्यक्रम में एक अन्य विकल्प हो सकते हैं जिनका घरेलू सत्र में अच्छा प्रदर्शन रहा है। विश्वकप टीम में जगह नहीं मिलने से निराश अंबाटी रायुडू के रिटायरमेंट और ऑलराउंडर विजय शंकर के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद चयनकर्ता बल्लेबाज़ शुभमन गिल और पृथ्वी शॉ को भी मौका दे सकते हैं।
विश्वकप में निराश कर गये दिनेश कार्तिक और महाराष्ट्र के ऑलराउंडर केदार जाधव का विंडीज़ दौरे में जगह बनाना अब मुश्किल माना जा रहा है। वहीं देखना होगा कि ओपनर शिखर धवन को टीम में जगह मिलती है या नहीं। धवन अंगूठे में चोट के कारण विश्वकप के बीच में ही स्वदेश लौट गये थे और यदि वह फिट होते हैं तो टीम के शीर्ष स्कोरर रहे रोहित शर्मा के साथ वापिस ओपनिंग जोड़ी के रूप में उनकी वापसी संभव है।

टीम इंडिया के नियमित खिलाड़ियों मे शामिल लोकेश राहुल, हार्दिक पांड्या, कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल के सीमित ओवर के लिये टीम में अपनी जगह बरकरार रखने की उम्मीद है। भारत ए टीम के साथ कैरेबियाई दौरे में खेल रहे लेग स्पिनर दीपक चाहर को भी मौका मिल सकता है।

इसके अलावा नये चेहरों में दिल्ली के तेज़ गेंदबाज़ नवदीप सैनी का भी मौजूदा दौरे में भारत ए के लिये प्रभावशाली प्रदर्शन रहा है। चयनकर्ता खलील अहमद, आवेश खान के बारे में भी विचार कर सकते हैं जबकि विश्वकप में कमाल की गेंदबाज़ी करने वाले मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार को भी टीम में बरकरार रखा जा सकता है।

टेस्ट टीम के लिये बतौर विकेटकीपर पंत को मौका दिये जाने की उम्मीद है। वह आस्ट्रेलिया दौरे में टीम के साथ थे। हालांकि टेस्ट टीम के विकेटकीपर रिद्धिमान साहा अब फिट हो चुके हैं, लेकिन देखना होगा कि चयनकर्ता उन्हें वापिस मौका देते हैं या नहीं। 

 

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close