उत्तराखंड

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का सरकार के खिलाफ हल्ला बोल

टिहरी (लोकसत्य)। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने चार सूत्रीय मांगों को लेकर जिला मुख्यालय में प्रदेश और केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने सरकार से शीघ्र सभी मांगों के निस्तारण की मांग की।
मांगों को लेकर उन्होंने डीएम के माध्यम से सीएम को ज्ञापन प्रेषित किया। सोमवार को टिहरी जिले के नौ ब्लॉकों से आई आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सुमन पार्क में एकत्रित हुई। सुमन पार्क से सैंकड़ों आंगनबाड़ी कार्यकर्ता जुलुस की शक्ल में डाईजर से होते हुई कलक्ट्रेट पहुंची। कलक्ट्रेट परिसर में उन्होंने केंद्र और प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और धरना दिया।
संगठन की जिलाध्यक्ष ममता रतूड़ी ने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बीते कई वर्षों से मानदेय बढ़ोत्तरी की मांग कर रहे हैं बावजूद सरकार उनकी मांग पर ध्यान नहीं दे रही है। कहा सरकार द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मोबाइल फोन दिए हैं, जिसमें आईसीडीएस के अंतर्गत बाल विकास विभाग के छह सेवाओं के कार्यों को मोबाइल फोन से ऑनलाइन डाटा भेजना पड़ता है। पहाड़ में भौगोलिक परिस्थितियों के चलते अक्सर इंटरनेट सर्वर डाउन होने के कारण बड़ी दिक्कत होती है। कहा कुछ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कम पढ़ी-लिखी होने के कारण मोबाइल फोन नहीं चला पाती है। उन्होंने सरकार से आंगनबाड़ी का मानदेय 18000 रुपये करने, मोबाइल फोनों को वापस लेने किसी भी सरकारी योजना के कार्य के दौरान यात्रा भता देने के साथ मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को समान कार्य समान वेतन देने की मांग की है। प्रदर्शन करने वालों में सविता सेमवाल, पृष्पा सजवाण, गुड्डी देवी, रजनी रावत, शकुंतला देवी, लक्ष्मी देवी, पिंकी सजवाण, बीना तड़ियाल, मीना रावत, मंगला थपलियाल, रजनी मखलोगा, शिवदेई गुसाईं, सुषमा देवी, रोशनी, देवी, पूनम देवी, कृष्णा नौटियाल, सोनी देवी, अंबिका देवी, विनय देवी, राजेश्वरी देवी, अनिता देवी, पिच्चपनी देवी, भादी देवी, शारदा देवी आदि मौजूद थे।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close