उत्तराखंड

जनसंख्या नियंत्रण से ही देश का चहुंमुखी विकास सम्भव: ठुकराल

रूद्रपुर ( उत्तराखंड)। जनसंख्या नियंत्रण से ही देश का चहुंमुखी विकास सम्भव है। इसलिए हर अभिभावक को देश के विकास के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का निष्ठा से निर्वहन करना होगा।यह बात विधायक राजकुमार ठुकराल ने विश्व जनसंख्या दिवस पर जिला चिकित्सालय में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन जिला इकाई द्वारा आज से प्रारम्भ हुए जनसंख्या स्थिरीकरण पखवाड़ा का शुभारम्भ करने के पश्चात उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कही।


उन्होंने कहा कि हर परिवार को अधिकतम दो बच्चों तक सीमित रहना चाहिए। इससे घर में न सिर्फ खुशहाली बनी रहेगी बल्कि बच्चों का पालन पोषण भी बेहतर तरीके से हो सकेगा।
उन्होंने कहा कि अधिक बच्चे वाले परिवारों में हमेशा पारिवारिक तनाव की स्थिति बनी रहती है तथा घर के मुखिया की अर्थव्यवस्थाा भी डांवाडोल रहती है और उसे परिवार के पालन पोषण में कदम कदम पर परेशानियों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जनसंख्या नियंत्रण के लिए कईयोजनाएं भी चलायी जा रही हैं जिसके तहत आशा कार्यकत्रियां स्वास्थ्य विभाग के साथ घर घर जाकर लोगों को जनसंख्या नियंत्रण के प्रति जागरूक कर रही है वरन प्रचार सामग्री व जनसंख्या नियंत्रण के साधन भी निःशुल्क उपलब्ध करा रही है।

उन्होंने कहा कि आज विश्व में चीन, इस्राइल सहित कई देशों ने जनसंख्या नियंत्रण पर काफी हद तक सफलता पायी है लेकिन भारत में जनसंख्या दिन प्रतिदिन विस्फोटक होती जा रही है जिससे देश का विकास प्रभावित हो रहा है। उन्होंने बताया कि जनप्रतिनिधित्व कानून में परिवर्तन किया जा रहा है। अब दो से ज्यादा बच्चों वाले व्यक्ति को जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायत, ग्राम प्रधान आदि पदों के चुनाव लड़ने के अयोग्य घोषित किया गया है और भविष्य में लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव में भी यही कानून लागू किये जाने के लिए देश भर में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा हैै। अपने सम्बोधन में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ- शैलजा भट्ट ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा आम जनता को जनसंख्या स्थिरीकरण के प्रति जागरूक करने के लिए पिछले कई वर्षों से कार्य किये जा रहे हैं। हर अभिभावक की भी जिम्मेदारी है कि वह परिवार नियोजन को अपनाये और बच्चां के पालन पोषण को बेहतर ढंग से करें।


उन्होंने बताया कि परिवार नियोजन के लिए कई सुविधाएं भी दी जा र ही हैं जिसमें नसबंदी कराने वाले पुरूष को 2हजार रूपए, महिला को 1400 रूपए प्रोत्साहन राशि दी जा रहीहै वहीं गर्भ निरोधक इंजेक्शन, गोलियां भी निःशुल्क वितरित की जा रही हैं। कार्यक्रम को पीएमएस डॉ-टीडी रखोलिया, डिप्टी सीएमओ डॉ- उदयशंकर सहित कई वक्ताओं ने सम्बोधित किया। इस दौरान डॉ- सुरेंद्र पपनेजा, डॉ-अविनाश खन्ना, डॉ- अभिषेक शर्मा,नीरज सक्सेना, प्रदीप, नंदलाल, दीपा जोशी, प्रीत, दान सिंह भंडारी, अजयवीर सिंह, तौफीक, मनोज रघुवंशी, गोपाल आर्य, कल्पना, बंटी कोली, आनंद शर्मा, दिलीप अधिकारी समेत भारी संख्या में आशा कार्यकत्री व अन्य चिकित्सा स्टाफ आदि मौजूद थे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close