उत्तराखंड

सीबीआरआई में स्वच्छता पखवाड़े का समापन

रुड़की (उत्तराखंड)। केंद्रीय भवन अनुसंधान संस्थान, रुड़की में मनाये जा रहे स्वच्छता पखवाड़ा का समापन हुआ। संस्थान के सूचना अधिकारी डॉ. अतुल अग्रवाल ने बताया कि पखवाड़े का उद्देश्य प्रतिदिन विस्तृत स्वच्छता कार्यक्रमों/गतिविधियों एवं सभी अनुभागों की समग्र स्वच्छता द्वारा सभी को स्वच्छता के महत्व पर जागरूक करना था।
संस्थान के निदेशक डॉ. एन. गोपालकृष्णन की अध्यक्षता में ‘स्वच्छता शपथ‘ के साथ पखवाड़े का शुभारम्भ हुआ तथा पर्यावरण को स्वच्छ रखने के सन्देश के साथ ‘स्वच्छ पर्यावरण‘ कार्यक्रम के अंतर्गत संस्थान परिसर में वृक्षारोपण किया गया। पखवाड़े के दौरान, ‘स्वच्छ परिसर‘ कार्यक्रम के अंतर्गत संस्थान में प्रतिदिन सफाई की गयी। कार्यालय और आवासीय क्षेत्रों में परिसर, उद्यान, शॉपिंग काम्प्लेक्स, फर्श, पंखें, दरवाजे, खिड़की, परदे आदि सभी की सफाई और मरम्मत की गयी।

सभी क्षेत्रों में कीट नियंत्रण और फॉगिंग का कार्य भी किया गया। आरोग्य जीवन हेतु जल और भोजन में स्वच्छता के महत्त्व को ध्यान में रहते हुए ‘स्वच्छ नीर‘ कार्यक्रम के तहत संस्थान, आवास, स्कूल और अस्पताल में पेयजल फिल्टर, नल, टैंक आदि सभी जल अधिष्ठापनों की गहन सफाई की गयी और ‘स्वच्छ आहार‘ कार्यक्रम के अंतर्गत संस्थान में कार्यालय और अतिथि गृह के कैंटीन तथा भोजनालयों का निरीक्षण कर सभी को स्वच्छ और पौष्टिक आहार का सेवन, प्लास्टिक पर प्रतिबन्ध और कूड़ेदान के उपयोग पर विशेष सन्देश दिया गया। इसी कड़ी में बच्चों में स्वास्थ्य और स्वच्छता के प्रति जागरूकता एवं जानकारी प्रदान करने के उद्देश्य से ‘स्वस्थ प्रतिस्पर्धा‘ कार्यक्रम के अंतर्गत संस्थान के वरिष्ठ प्रधान वैज्ञानिक डॉ. अतुल अग्रवाल के संयोजन में सीबीआरआई जूनियर हाई स्कूल, रुड़की में विद्यार्थियों के लिए आदर्श-वाक्य प्रतियोगिता एवं निबंध प्रतियोगिता आयोजित की। पखवाड़े के दौरान ‘स्वच्छ भविष्य‘ कार्यक्रम के अंतर्गत डॉ. अतुल अग्रवाल के संयोजन में संस्थान के वैज्ञानिकों की टीम ने विभिन्न स्कूलों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता बढ़ाने हेतु व्याख्यान भी प्रस्तुत किये। पखवाड़े के दौरान प्रतिदिन, ‘स्वच्छता जागरूकता‘ कार्यक्रम के अंतर्गत डिजिटल सन्देश, बैनर्स आदि द्वारा स्वच्छता के सन्देश का प्रसार किया गया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close