उत्तराखंड

हिमालयन योग पीठ द्वारा विचार गोष्ठी आयोजित

ऋषिकेश ( उत्तराखंड)। हिमालयन योग पीठ मुनिकीरेती द्वारा एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें विभिन्न योग केंद्रों से आए योग साधकों ने जटिल यौगिक क्रियाओं का अभ्यास कराया।
रविवार को मुनि की रेती- ढ़ालवाला स्थित हिमालयन योग पीठ द्वारा संस्कार में योग की भूमिका विषय पर एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस मौके पर क्षेत्र के विभिन्न योग केंद्रों से आए योग साधकों द्वारा योग आसनों का प्रदर्शन कर जटिल यौगिक क्रियाओं का अभ्यास भी कराया।
इस अवसर पर गोष्ठी को संबोधित करते हुए विश्व प्रसिद्ध योग साधक मां प्रेम अद्वैता ने कहा कि संस्कृति व संस्कार का समावेश ही योग है। प्रसिद्ध समाज सेवी आशाराम व्यास ने बच्चो का आह्वान करते हुए कहा कि योग को अपने संस्कारों से जोड़ें ताकि उनका जीवन सार्थक हो सके और अपने लक्ष्य को आसानी से हासिल कर सकें।
इस अवसर पर प्रवासी उत्तराखंडी भारत सिंह नेगी द्वारा योग साधकों को योग मेट व टीशर्ट भी वितरित की गई ताकि वे योग से हमेशा के लिए जुड़े रहे। कार्यक्रम में धनीराम बिजोला,सुनील दत्त थपलियाल,अशोक क्रेजी,राजेश्वर उनियाल,नीतू चौधरी,सूरज बिजलवान,गौरभ देशवाल,दर्शन लाल उनियाल,जयदेव सेमवाल,गजेन्द्र कंडियाल,महिपाल बिष्ट,विभा त्यागी,विनोद बडथ्वाल,सुरेन्द्र बडथ्वाल,एकता,आदि उपस्थित थे।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close