उत्तर प्रदेश

चुनाव खर्च नहीं देना भाजपा का भ्रष्टाचार: अखिलेश

लखनऊ, लोकसत्य। समाजवादी पार्टी के अघ्यक्ष अखिलेश यादव ने लोकसभा चुनाव के खर्च का ब्योरा अभी तक नहीं देने पर भारतीय जनता पार्टी को आड़े हाथो लिया और कहा कि यह संदेह पैदा करता है।
श्री यादव ने शुक्रवार को संवाददताओं से कहा कि कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में 800 करोड़ रूपया खर्च होने की पूरी जानकारी निर्वाचन आयोग को दे दी है जबकि भाजपा ने अभी तक ऐसा नहीं किया है । सभी जानते हैं कि भाजपा ने लोकसभा चुनाव में किस तरह पैसे बहाये। उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग को भाजपा से कारपोरेट सेक्टर में दिये गये बांड के बारे में भी जानकारी मांगनी चाहिये ।
श्री यादव ने कहा कि भाजपा सरकार गांवों में शौचालय बनाने का प्रचार जोरशोर से कर रही है । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दावा कर रहे हैं कि 98 प्रतिशत गांवों में शौचालय का निर्माण करा दिया गया है जो सच्चाई से परे है। देश में शौचालय निर्माण एक बड़ा घोटाला साबित होने वाला है ।
श्री यादव ने समाजवादी पार्टी के संरक्षक और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव पर से गेस्ट हाउस केस वापस लेने पर बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती की सराहना की लेकिन दोनों दलों के फिर से करीब आने पर कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया ।
बसपा और सपा ने 1993 में मिलकर सरकार बनाई थी लेकिन बसपा ने 1995 में समर्थन वापस ले लिया था । मायावती जब पार्टी विधायकों के साथ 2 जून 1995 को राजधानी लखनऊ के मीराबाई गेस्ट हाउस में बैठक कर रही थीं ,तब उन पर सपा कार्यकर्ताओं ने हमला कर दिया था। बकौल मायावती ये उनकी जान लेने की साजिश थी । इस मामले में मुलायम सिंह यादइव,उनके भाई शिवपाल सिंह यादव,बेनी प्रसाद वर्मा ,आजम खान समेत सपा के कई नेताओं के खिलाफ मुकदमा किया गया था । अब मायावती ने उच्चतम न्यायालय में मुलायम सिंह यादव के खिलाफ केस वापसी की अर्जी दी है ।
अखिलेश यादव ने कहा कि अयोध्या में जमीन विवाद पर उच्चतम न्यायालय का जो भी फैसला आयेगा वो उसे स्वीकार करेंगे । सरकार को चाहिये कि वो पूरे राज्य में सभी की सुरक्षा सुनिश्चित करे ।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close