उत्तर प्रदेश

जोरदार धमाके से दहला राजनकुंज

मेरठ, लोकसत्य
पॉश राजनकुंज में सब सामान्य था। अचानक तेज धमाके से इलाका दहल गया। आसपास के लोगों को लगा कि जैसे कोई विस्फोट हो गया हो। लोग घरों के बाहर निकले तो पता चला कि रिटायर्ड एसडीओ प्रदीप शर्मा के मकान में आग लगी है। रसोई में खाना बना रही नौकरानी की मौके पर ही मौत हो गई। तरह-तरह की चर्चाएं होनी शुरू हो गई।
यह हादसा है या फिर कोई साजिश, पुलिस इसका जल्द ही खुलासा करेगी। राजनकुंज के मकान नंबर 107 में कैसे धमाका हुआ इसकी पुष्टि दमकल विभाग व फोरेंसिक टीम अभी नहीं कर रही है, क्योंकि मकान के किचन में दोनों सिलिंडर ठीकठाक रखे मिले हैं। फ्रिज और एसी का कंप्रेशर गायब मिले हैं, जिससे अंदेशा है कि शायद ये दोनों ही फटे होंगे। धमाका इतना जबरदस्त था कि पूर्व एसडीओ के मकान के पास के लोगों में दहशत फैल गई। हालांकि धमाके के साथ आग में नौकरानी के जिंदा जलने के पीछे गहरी साजिश भी पुलिस मानकर चल रही है। राजनकुंज के बराबर में मंडप है, जहां विवाह समारोह चल रहा था। मकान में तेज धमाके से मंडप में मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया। शादी में शामिल होने आए लोग भी मदद के लिए राजनकुंज में पहुंच गए। परंतु फायर ब्रिगेड थोड़ा देरी से पहुंची।
राजनकुंज में आग बुझाने के कोई इंतजाम नहीं थे। धमाके के बाद लगी आग में मकान के अंदर फंसी नौकरानी बीना मदद के लिए चिल्लाती रही। लेकिन आसपास के लोगों ने उसकी सहायता नहीं की। इस दौरान सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो चुकी थी। लेकिन कोई आगे नहीं आया। विवाह मंडप से पहुंचे कारीगरों को जब महिला के मकान से चिल्लाने की आवाज आई तो उन्होंने साहस दिखाकर महिला को किसी तरह बाहर निकाला। लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close