उत्तर प्रदेश

डेयरी संचालकों का नगर निगम पर हंगामा

मेरठ,लोकसत्य
महानगर से डेयरियां बाहर करने की कार्रवाई को लेकर मंगलवार को नगर निगम और डेयरी संचालक आमने सामने आ गए। डेयरी संचालकों ने निगम प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। करीब 400 डेयरी संचालकों ने जुलूस के साथ नगर आयुक्त कार्यालय के बाहर डेरा डाल दिया। उन्होंने नगर निगम में तालाबंदी भी की। वार्ता के बाद डेयरी संचालकों ने कहा कि वे खुद डेयरी हटाएंगे।
डेयरी संचालक एसोसिएशन के अध्यक्ष महेंद्र उपाध्याय के नेतृत्व में डेयरी संचालकों का जुलूस माधवपुरम से शुरू हुआ। महिलाओं के साथ नगर निगम पहुंचे डेयरी संचालको ने एलान कर दिया कि वह अपनी रोजी रोटी के लिए आरपार की लड़ाई लड़ेंगे। उन्होंने नगर निगम कार्यालय के सामने धरना शुरू कर दिया। देहली गेट थाने की पुलिस नगर निगम में तैनात कर दी गई। सीओ कोतवाली दिनेश कुमार शुक्ला मौके पर पहुंचे। कई और थानों की पुलिस भी वहां बुला ली गई। डेयरी संचालकों से कहा गया कि हट जाओ, लेकिन वह अपनी मांग को लेकर अड़ गए। उन्होंने कहा कि बिना नगर आयुक्त से बात किये वह नहीं जाएंगे। इसके बाद आरआरएफ भी बुला ली गई। इधर डेयरी संचालकों की संख्या लगातार बढ़ती रही। डेयरी संचालक एसोसिएशन के अध्यक्ष ने कहा कि रोज रोज की धमकी से अच्छा है कि हम सबको गिरफ्तार कर लो। या फिर कैटल कालोनी दे दो। हमसे आवेदन लिए गए हैं। 1015 डेयरी संचालक आवेदन कर चुके हैं। इसके बाद डेयरियों को उजाड़ने का कोई औचित्य नहीं है। उन्होंने सीओ कोतवाली से कहा कि वह नगर आयुक्त से बात करना चाहते हैं। सीओ कोतवाली ने फोन पर नगर आयुक्त से बात की। नगर आयुक्त ने पांच लोगों को वार्ता के लिए बुलाया। उन्होंने नगर निगम में नगर आयुक्त कार्यालय में ताला डाल दिया। इस दौरान नगर निगम में कोई भी अधिकारी मौजूद नहीं है। बाद में नगर निगम अधिकारियों और डेयरी संचालक प्रतिनिधियों के बीच वार्ता हुई। डेयरी संचालक प्रतिनिधि मंडल ने कैटल कालोनी बसाने की बात रखी। जिसे खारिज कर दिया गया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close