उत्तर प्रदेश

बेखौफ बदमाशों ने दो पेट्रोल पंप लूटे

मेरठ, लोकसत्य
डस्टर में सवार सशस्त्र बदमाशों ने बीती रात जमकर कहर बरपाया। बदमाशों ने साढ़े दस बजे गुलावठी में पेट्रोल पंप लूटा। इसके बाद डेढ़ बजे मेरठ में हाईवे पर स्थित चौधरी पेट्रोल पंप के आठ सेल्समैनों से 40 हजार की नकदी लूटी। हालांकि बदमाश स्ट्रांग रूम तोड़ने में नाकाम हो गए, जिसमें करीब नौ लाख रुपये रखे हुए थे। बदमाशों के जाने के बाद लूट की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर कांबिंग की, लेकिन बदमाशों का कोई पता नहीं चला।
परतापुर क्षेत्र में दिल्ली हाईवे पर दो भाइयों रविंद्र और देवेंद्र सिंह के दो पेट्रोल पंप हैं। ये दोनों भाई इस समय शताब्दीनगर में रहते हैं। शनिवार की रात को पेट्रोल पंप पर सेल्समैन हिसावदा निवासी महेश कुमार, बहादुरपुर निवासी अनुज कुमार ब्रह्मपुरी निवासी संजय और जौहड़ी निवासी संजय काम कर रहे थे। चार सेल्समैन अंदर सो रहे थे। रात करीब डेढ़ बजे डस्टर में सवार छह बदमाश पेट्रोल पंप पर पहुंचे। सभी ने चेहरे पर नकाब लगा रखा था। कार रोकते ही बदमाशों ने सभी सेल्समैनों को गन प्वाइंट पर ले लिया। जान से मारने की धमकी देते हुए उन्हें ऑफिस में ले गए। जहां पर स्ट्रांग रूम की चॉबी मांगी। सेल्समैन ने चॉबी नहीं होने की बात कही तो उन्होंने तमंचा लगाकर खोपड़ी उड़ाने की धमकी दी। उसके बाद स्ट्रांग रूम तोड़ने की कोशिश की। नहीं टूटा तो सेल्समैन के कब्जे से 40 हजार की नकदी लेकर भाग गए। बदमाशों के जाने के बाद कंट्रोल रूम को सूचना दी गई।
पीआरवी और इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर मौके पर पहुंचे। रातभर कांबिंग के बाद भी बदमाशों का पता नहीं चल सका। बदमाशों ने डस्टर पर बिना नंबर की प्लेट लगा रखी थी। पुलिस जांच में सामने आया कि उससे पहले साढ़े दस बजे बदमाशों ने हापुड़ के गुलावठी में पेट्रोल पंप को लूटा है। वहां से बदमाश 50 हजार की नकदी लूटकर ले गए हैं। दोनों घटनाओं की सीसीटीवी फुटेज वायरल होने के बाद दोनों जनपदों की पुलिस ने संयुक्त रूप से बदमाशों की तलाश की। पेट्रोल पंप स्वामी ने दहशत के चलते मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने से इंकार कर दिया।

दोनों जनपदों की क्राइम ब्रांच जुटी
बदमाशों ने मेरठ में लूट से पहले गुलावठी में भी पेट्रोल पंप लूटा था। वहां कार का नंबर भी मिल गया है, जिसके आधार पर दोनों जनपदों की क्राइम ब्रांच संयुक्त रूप से काम कर रही हैं। जल्द ही गैंग को पकड़कर घटना का पर्दाफाश किया जाएगा।

  • नितिन तिवारी, एसएसपी, मेरठ

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close