उत्तर प्रदेश

सहफसली खेती कर आय बढ़ाएं: भूसरेड्डी

मेरठ, लोकसत्य
प्रदेश के प्रमुख सचिव, गन्ना एवं चीनी, संजय आर. भूसरेड्डी ने मंगलवार को मेरठ जनपद के दौराला क्षेत्र का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने आगामी पेराई सत्र 2019-20 की तैयारी के लिए विभाग व चीनी मिल द्वारा संयुक्त रूप से कराये जा रहे गन्ना सर्वेक्षण का दौराला में जायजा लिया। मौके पर उपस्थित किसानों को आमदनी बढ़ाने के लिए सहफसली खेती करने की सलाह दी।
उन्होंने कहा कि किसान गन्ने के साथ-साथ फूल व सब्जी आदि की सहफसली खेती करके अतिरिक्त आय प्राप्त कर सकते हैं। क्षेत्र व समय चक्र के अनुसार खरबूजा, तरबूज, चना, मटर, चुकंदर-गाजर की सहफसली खेती भी की जा सकती है। प्रमुख सचिव संजय आर भूसरेड्डी ने कहा कि सर्वेक्षण के समय किसान अपने खेत पर उपस्थित रहकर अपने सामने गन्ना सर्वेक्षण करायें। सर्वेक्षण के समय निर्धारित प्रारूप पर घोषणापत्र भरकर सर्वे कर्मी को अनिवार्य रूप से उपलब्ध करा दें। साथ ही किसान अपना नाम, गन्ना प्रजाति, फसल का विवरण आदि भी सही-सही अंकित करा लें, जिससे उन्हें पेराई सत्र के दौरान कोई समस्या का सामना न करने पड़े। सभी किसानों को अपनी स्वप्रमाणित खतौनी व घोषणापत्र जमा करना अनिवार्य है। इसके जमा न करने पर उनका आगामी पेराई सत्र के लिए गन्ना सट्टा संचालित नहीं किया जायेगा।
सर्वे के बाद गन्ना कृषक को उसके प्लाट या खेत पर ही माप पर्ची उपलब्ध करायी जायेगी। इसके बाद सहकारी गन्ना विकास समिति लि. दौराला के कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। समिति सचिव आनन्द प्रकाश दुबे को साफ-सफाई व पत्रावलियों के रखरखाव में सुधार लाने के लिए निर्देशित किया। प्रमुख सचिव संजय आर. भूसरेड्डी के साथ निरीक्षण के समय उप गन्ना आयुक्त मेरठ हरपाल सिंह, जिला गन्ना अधिकारी हापुड़ ओमप्रकाश सिंह, ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक दौराला व सचिव, सहकारी गन्ना विकास समिति लि. दौराला आदि
उपस्थित रहे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close