उत्तर प्रदेश

सुरक्षाकर्मियों को प्रशिक्षण की जरूरत

मेरठ, लोकसत्य
जेल में तैनात सुरक्षाकर्मी व गार्डों को भी पुलिस लाइन में ट्रेनिंग की आवश्यकता है। यह बात मंगलवार को सर्किट हाउस के एनेक्सी भवन में पत्रकारों से बातचीत में मेरठ के नोडल पुलिस अधिकारी (आईपीएस) आदित्य मिश्रा ने कही। श्री मिश्रा मुख्यमंत्री को जमीनी हकीकत से रूबरू कराने के मकसद से मेरठ के भ्रमण पर आये हैं। उन्होंने पुलिस व्यवस्था से जुड़ी विभिन्न समस्याएं व सुझाव एकत्र किये। वहीं उन्होंने सदर थाने का निरीक्षण भी किया। 
उन्होंने बताया कि वह जनप्रतिनिधियों, व्यापारियों से भी मिले। थाना सदर बाजार तथा जेल का निरीक्षण भी किया। उन्होंने बंदी लोगों से बन्द होने का कारण भी पूछा। भ्रमण से ज्वंलत समस्याओं की जानकारी भी होती है। इसलिए वह आज शाम व बुधवार को भी भ्रमण पर रहेंगे। शस्त्र पुलिस को 3 नाट 3 रायफल के स्थान पर इंसास शस्त्र दिये जाने की तैयारियां चल रही हैं। इंसास शस्त्र आने के बाद 3 नाट 3 रायफल वापस होगी, जिससे पुलिस हाईटेक होगी तथा सुरक्षा व्यवस्था भी बेहतर होगी। उन्होंने कहा कि लूट, चैन इत्यादि अपराधों पर अंकुश है। उन्होंने माना कि अभी भी अपराधों पर अंकुश के लिए व्यवस्था में सुधार की आवश्यकता है। उनका प्रयास होगा कि सुरक्षा बेहतर बने। उन्होंने माना कि पुलिस की कार्यशैली में अच्छा बदलाव आ रहा है, साथ ही यह भी कहा कि कमियों को भी उजागर किया जाये। सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर रखी जा रही है। पत्रकार वार्ता के दौरान एसएसपी अजय साहनी भी मौजूद रहे। वहीं एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह, एसपी देहात अविनाश पाण्डेय सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। पत्रकार वार्ता से पूर्व भाजपा विधायक सोमेन्द्र तोमर, सत्य प्रकाश अग्रवाल, दिनेश खटीक, सतवीर त्यागी ने भी कानून व्यवस्था से पुलिस नोडल अधिकारी को अवगत कराया।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close