दिल्लीराज्य

नई दिल्ली : 100 मोहल्ला क्लीनिक में खुलेंगे होम्योपैथिक क्लीनिक

नई दिल्ली, लोकसत्य। दिल्ली सरकार आने वाले समय में आम आदमी मोहल्ला क्लीनिक में होम्योपैथिक चिकित्सा के लाभ दिलाने का बड़ा कदम उठाने जा रही है। मोहल्ला क्लीनिकों में होम्योपैथिक क्लीनिक भी खुलेंगे। दिल्लीभर में खुलने वाली 1000 मोहल्ला क्लीनिकों में से 10 फीसदी यानी 100 मोहल्ला क्लीनिक होम्योपैथिक क्लीनिक होंगी। यह सभी क्लीनिक इवनिंग शिफ्ट में चलेंगी। यह बातें दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र कुमार जैन ने होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति के जनक डॉ. सैमुअल हैनिमैन की 264वीं जयंती के उपलक्ष्य में दिल्ली होम्योपैथिक फैडरेशन की ओर से आयोजित वार्षिक समारोह में बतौर मुख्य अतिथि कही।
इस बीच देखा जाए तो डॉ. सैमुअल के जन्मदिवस 10 अप्रैल को विश्व होम्योपैथिक दिवस के रूप में मनाया जाता है। फैडरेशन की ओर से पूरे अप्रैल माह में होम्योपैथिक के रूप कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं। फैडरेशन ने रविवार को नई दिल्ली के आईटीओ स्थित प्यारेलाल भवन में समारोह का आयोजन किया। समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में भारत सरकार के सेंट्रल काउंसिल फॉर रिसर्च इन होम्योपैथिक के महानिदेशक डॉ. राजकुमार मनचंदा, फैडरेशन के चेयरमैन डॉ. केके जुनेजा के अलावा काफी संख्या में चिकित्सा सेवा से जुड़े चिकित्सक व गणमान्य लोग प्रमुख रूप से उपस्थित थे।
स्वास्थ्य मंत्री जैन ने विचार रखते हुये यह भी कहा कि होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति के प्रचार व प्रसार में किये जा रहे प्रयासों की सराहनी है। साथ ही यह भी कहा कि अब लोगों का विश्वास एलोपैथी से हटता हुये होम्योपैथी की तरफ तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने इस दिशा में कई बड़े काम किये हैं और आने वाले समय में इस पद्धति के लाभ को लोगों तक पहुंचाने के और भरसक प्रयास किये जाएंगे। इसके लिये चिकित्सकों के साथ-साथ इस पद्धति से जुड़ा हर व्यक्ति बधाई का पात्र है।
इस अवसर पर होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति के प्रचार व प्रसार में अहम भूमिका निभाने वाले दिल्ली सरकार के चिकित्सक, फार्मासिस्ट के अलावा निजी संस्थाओं के प्रतिनिधियों को भी स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र कुमार जैन की ओर से मंच पर सम्मानित भी किया गया। चिकित्सा पद्धति को आगे बढ़ाने में अग्रणी भूमिका निभाने वालों को यह अवार्ड अलग-अलग कैटेगरी में दिये गये। दिल्ली सरकार के आयुष विभाग के अंतर्गत कार्यरत करीब 15 चिकित्सक और फार्मासिस्ट्स को उनकी सराहनीय सेवाओं के लिये ‘होम्यो आइकन अवार्ड’ व ‘एक्सीलेंस अवार्ड’ से सम्मानित किया गया। फैडरेशन की ओर से ‘होम्यो आइकन अवार्ड’ हासिल करने वालों में दिल्ली सरकार के चिकित्सक और फार्मासिस्ट्स में चीफ मेडिकल ऑफिसर (दिल्ली सचिवालय) डॉ. उदेश कुमार, फार्मासिस्ट (दिल्ली सचिवालय) कपिल पाल, नेहरू होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज (एनएचएमसी) के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. धंनजय शुक्ला, द्वारका कोर्ट में सीनियर मेडिकल ऑफिसर डॉ. अमित अरोरा, बेर सराय डिस्पेंसरी के फार्मासिस्ट पंकज गुप्ता, दीपचंद बंधु अस्पताल के चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉ. रवि प्रमुख रूप से शामिल हैं। वहीं नेहरू होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज (एनएचएमसी) के एलडीसी ईशान को सराहनीय सेवाओं के लिये एक्सीलेंस अवार्ड से नवाजा गया है। अहम बात यह है कि ‘होम्यो आइकन अवार्ड’ हासिल करने वाले फार्मासिस्ट कपिल पाल ऐसे अवार्डी हैं जिनको होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति के प्रचार व प्रसार में अहम योगदान के लिये तीसरी बार सम्मानित किया गया है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close