दिल्लीराज्य

प्रॉपर्टी टैक्स नहीं भरने वाली 416 प्रॉपर्टीज कुर्क

नई दिल्ली, (लोकसत्य)। नार्थ दिल्ली नगर निगम ने देय संपत्ति कर के भुगतान ना करने पर 1  अप्रैल 2019 से अब तक 416 संपत्तियां कुर्क की हैं। इन संपत्तियों पर कुल 2775.42 लाख रुपये की राशि बकाया है। हालांकि 82 संपत्तियों का 367.60 लाख रुपये के भुगतान के बाद नार्थ निगम द्वारा कुर्क मुक्त कर दिया गया है।

नार्थ एमसीडी ने 15 दिनों में 125 संपत्तियां कुर्क की हैं जिन पर 1090.55 लाख रुपये का संपत्ति कर बकाया था। जबकि 28 संपत्तियों को 2262.04 लाख रुपए के संपत्तिकर के भुगतान के बाद मुक्त किया गया है।

निगम के प्रेस एवं सूचना निदेशक योगेंद्र सिंह मान के मुताबिक सभी संपत्तिधारकों को सलाह दी जाती है कि वे अपने नियत संपत्ति कर का समय से भुगतान करें अन्यथा उन्हें दंड और ब्याज के साथ अपने देय संपत्ति कर का भुगतान करना होगा और उनके बैंक खाते या संपत्ति को भी कुर्क किया जा सकता है।

मान के मुताबिक नार्थ निगम के सभी संपत्तिकर कार्यालय राजपत्रित अवकाश के अलावा हर शनिवार को सामान्य सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक खुले रहेंगे। दोपहर 1 बजे से 1.30 बजे तक भोजनावकाश रहेगा। सभी संपत्तिधारकों को सलाह दी जाती है कि वे अपने नियत संपत्ति कर का समय से भुगतान क्योंकि नार्थ निगम ने अन्य एजेंसियों के साथ मिलकर एक विशेष टीम का गठन किया है जो उपलब्ध जानकारी एकीकृत करने का कार्य करेगी। जियोस्पेशियल दिल्ली लिमिटेड (जीएसडीएल) डेटा के पास उपलब्ध जानकारी के माध्यम से संपत्तियों के वास्तविक विवरणों को सत्यापित किया जाएगा जैसे कि सेल टावरों, संपत्ति के उपयोग की प्रकृति आदि। इसलिए यह समय उपयुक्त है संपत्ति कर का भुगतान करने के लिए।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close