बिहारराज्य

कोरोना के मद्देनजर सरकार ने जारी की गाइडलाइन, इस साल ऐसे मनाए Chhath Puja

पटना (लोकसत्य)। कोरोना काल में Chhath Puja मनायी जा रही है। राज्य सरकार ने इसके लिये दिशा-निर्देश जारी किए हैं। राज्य सरकार ने श्रद्धालुओं को घाट पर अर्घ्य के दौरान तालाब में डुबकी नहीं लगाने के निर्देश दिए हैं। जिला प्रशासन को निर्देश दिया गया है कि वह अपने क्षेत्र में घाटों के किनारे इस तरह बैरिकेडिंग करें कि श्रद्धालु पानी में डुबकी न लगा सकें। इनके अलावा छठ पर्व के दौरान 60 साल से अधिक उम्र व्यक्ति और 10 साल से कम उम्र के बच्चों तथा बुखार एवं कोरोना लक्षण से ग्रसित लोगों को घाट पर नहीं जाने की सलाह दी गई है। इसके बाद भी यदि श्रद्धालु तालाब या घाटों पर छठ पर्व मनाने आते हैं तो वहां जिला प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस दिशा-निर्देश का सख्ती से पालन कराया जाए। साथ ही लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने को कहा गया है। इसके अलावा घाटों पर मास्क लगाना अनिवार्य है।

कोरोना को देखते हुए इस बार प्रशासन ने सीमित घाटों पर ही छठ की व्यवस्था की है। पटना में छठ के लिए इस बार कुल 83 घाट और 71 तालाब में अर्घ्य देने की तैयारी की जा रही है। इन घाटों पर छठ करने के लिए लोगों को पैदल ही जाना होगा। साइकिल से लेकर तीन पहिया और चार पहिया वाहन से जाने पर रोक होगी। घाटों पर शौचालय, चेंजिंग रूम आदि बनकर तैयार हो गए हैं। गंगा घाटों की बैरिकेडिंग की गई है। खतरनाक घाट को लाल कपड़े में दर्शाया गया है। हर घाट पर पुलिस बल तैनात है। घाटों तक वाहन नहीं जाने और पार्किंग की सुविधा नहीं होने के कारण लोगों को इस बार गंगाजल लाने के लिए पैदल चलना पड़ेगा।

जिलाधिकारी कुमार रवि की ओर से पटना के सिविल सर्जन को पत्र भेजा गया है। इसमें कहा गया है कि कोरोना के संक्रमण को देखते हुए छठ घाटों पर थर्मल स्क्रीनिंग, सेनेटाइजर, मास्क और पीपीई किट उपलब्ध रखें, ताकि जरूरत पड़ने पर उसका इस्तेमाल किया जा सके। जिलाधिकारी कुमार रवि ने लोगों से अपील की है कि कोरोना के संक्रमण को देखते हुए गंगा के घाटों पर छठ नहीं करें। बेहतर होगा कि वे घर पर ही पूजा करें। उन्होंने बताया कि छठ के लिए जिन घाटों को चिह्नित किया गया है, वहां पर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

पटना के वरीय पुलिस अधीक्षक उपेंद्र शर्मा ने कहा कि गंगा घाट पर सुरक्षा के तमाम इंतजाम किये गए हैं। सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए अतिरिक्त बल तैनात है. लेकिन छठ व्रती से अपील है कि वह घर में ही छठ पूजा मनाए। गंगा घाट आने से परहेज रखें। गाड़ी से आने वाले छठ व्रतियों को पार्किंग की व्यवस्था नहीं मिलेगा।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close