दिल्लीराज्य

शिखर सम्मेलन पर जावड़ेकर का बयान गलत व भ्रामक:चड्ढा

नई दिल्ली, (लोकसत्य)। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चड्ढा ने कोपेनहेगन में C-40 जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए दिल्ली सरकार के प्रतिनिधिमंडल को राजनीतिक मंजूरी से इनकार करने पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के बयान को गलत और भ्रामक बताया है।

चड्ढा ने कहा कि प्रकाश जावड़ेकर ने कोपेनहेगन शिखर सम्मेलन को महापौर सम्मेलन कहा है और इसीलिए दिल्ली सरकार के प्रतिनिधिमंडल को विदेश मंत्रालय से राजनीतिक मंजूरी न देने की बात कही है। C40 जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए प्रतिबद्ध दुनिया के सबसे बड़े शहरों का एक समूह है। जावड़ेकर की ओर से बताए गए तर्क की जांच की जाए। जावड़ेकर ने बोलने से पहले अपने तथ्यों की जाँच कर लेनी चाहिए थी। उन्हें पता होना चाहिए कि 2007 में दिल्ली की तत्कालीन मुख्यमंत्री, स्वर्गीय शीला दीक्षित ने C40 जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन के लिए दिल्ली प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया था। वह कार्यक्रम न्यूयॉर्क में आयोजित किया गया था। उस शिखर सम्मेलन में दुनिया भर के विभिन्न महापौरों और मुख्यमंत्रियों ने भाग लिया था।

जावड़ेकर प्रमुख शहरों और शहरों के राज्यों के प्रशासनिक ढांचे से स्पष्ट रूप से अनभिज्ञ हैं, उदाहरण के लिए 2010 में दिल्ली में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों का उद्घाटन तत्कालीन दिल्ली की मुख्यमंत्री द्वारा किया गया था, जबकि अन्य प्रमुख शहरों में इनका उद्घाटन महापौरों द्वारा किया गया था। भाजपा अपने राजनीतिक इरादों को छिपाने के लिए व लोगों को गुमराह करने की भ्रमित बयान दे सकता है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close