मध्य प्रदेश

सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में महिलाएं निभा रही महत्वपूर्ण भूमिका: Kamal Patel

हरदा। मध्यप्रदेश के किसान कल्याण और कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा है कि प्रदेश के विकास में महिलाएं बराबर की भागीदार होंगी।

कमल पटेल ने रविवार मंडी प्रांगण स्वयं सहायता समूह को बैंकों के माध्यम से ऋण वितरण कार्यक्रम में कहा कि स्वयं सहायता समूह के माध्यम से आर्थिक विकास ही नहीं सामाजिक विकास के परिणाम दिखाई दे रहे हैं। स्वयं सहायता समूह की बहनें सरकार की योजनाओं के क्रियान्वयन में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।

इस कार्यक्रम में कमल पटेल द्वारा स्वयं सहायता समूह के जिले में सशक्तिकरण हेतु बताया गया कि ज्यादा से ज्यादा शासन की योजनाओं का क्रियान्वयन स्वयं सहायता समूह के माध्यम से कराया जावेगा। इससे योजनाओं के क्रियान्वयन में पारदर्शिता बढ़ेगी। साथ ही समुदाय का सरकार के प्रति विश्वास बढ़ेगा।

उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की समस्या के निराकरण के लिए आगामी 3 वर्षों में सभी गांवों में नल के माध्यम से पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा। कार्यक्रम में कमल पटेल द्वारा 128 स्वयं सहायता समूहों को एक करोड़ 57 लाख रुपए की बैंक लिंकेज राशि का प्रतीकात्मक चेक वितरण किया गया। उन्होंने स्वयं सहायता समूह द्वारा तैयार किए गए आजीविका उत्पादों का अवलोकन भी किया गया।

कार्यक्रम में एलईडी के माध्यम से राज्य स्तरीय कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया गया। जिसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रदेश के दमोह, देवास, शिवपुरी की स्वयं सहायता समूह की महिलाओं से सीधे संवाद किया गया। श्री चौहान द्वारा सीधे प्रसारण के माध्यम से स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को आश्वस्त किया गया कि प्रदेश में चीन की बनी वस्तुएं नहीं बेची जाएगी। अब यह कार्य स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से किया जावेगा। स्वयं सहायता समूहों के सशक्तिकरण हेतु उनके द्वारा हर संभव प्रयास किए जाएंगे। इस दौरान उनके द्वारा 70 करोड़ रुपये की राशि के आरएफ एवं सी एफ का ऑनलाइन वितरण किया गया।

इस कार्यक्रम में जिले के ग्रामीण अंचलों के स्वयं सहायता समूह की लगभग 200 महिलाएं शामिल हुई। ग्रामीण महिलाओं द्वारा राशन वितरण, प्रधानमंत्री आवास योजना, पेंशन योजना के क्रियान्वयन के बारे में भी अवगत कराया गया।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close