उत्तर प्रदेशराज्य

नोएडा व ग्रेटर नोएडा के बीच जल्द दौड़ेगी मेट्रो, होंगे 15 स्टेशन

नोएडा (लोकसत्य)। उत्तर प्रदेश सरकार नोएडा व ग्रेटर नोएडा के बीच 15 किमी की मेट्रो रेल चलाने की तैयारी कर रही है। मेट्रो परियोजना के दूसरे चरण को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार जल्द औपचारिक मंजूरी देने जा रही है। गौतमबुद्धनगर में मेट्रो के लगातार विस्तार से वहां व आसपास के लोगों को इससे खासी सहूलियत होगी। साथ ही उन्हें सार्वजनिक परिवहन के रूप में बेहतर विकल्प मिल सकेगा। इससे यहां के लोग मेट्रो रेल के जरिए रोजाना दिल्ली आ जा सकेंगे। नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन ने इसका प्रस्ताव तैयार कर लिया है। इससे संबंधित डीपीआर को जल्द मंजूरी दिलाई जाएगी।  कारपोरेशन ही इस परियोजना का निर्माण व संचालन करेगा। इसे मार्च 2022 तक पूरा करने की योजना है। औद्योगिक विकास विभाग के बड़े अधिकारी के मुताबिक यह परियोजना दो चरणों में होगी। पहले चरण में नौ किमी का मेट्रो ट्रैक बिछेगा और दूसरे चरण में छह किमी का। यह मेट्रो परियोजना नोएडा में सेक्टर-71 से ग्रेटर नोएडा के नालेज पार्क -5 तक होगी। इसमें सभी स्टेशन ओवरहेड होंगे। कोई भी स्टेशन भूमिगत नहीं होगा। इनके बीच कुल 15 स्टेशन होंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुछ समय पहले इस प्रोजेक्ट का  ऐलान किया था। इस परियोजना पर 3800 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इसे सरकार अपने खर्चे से बनवाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसी साल  25 जनवरी को नोएडा के सेक्टर 51 से ग्रेटर नोएडा डिपो तक एक्वा मेट्रो लाइन का लोकार्पण किया था। इसमें 21 स्टेशन बनाए गए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उसी मौके पर गौतमबुद्धनगर के नोएडा व ग्रेटर नोएडा के बीच  इसके विस्तार का ऐलान किया था। उसी क्रम में अब परियोजना की विस्तृत कार्ययोजना तैयार कर ली गई है। इसे दिसंबर के पहले हफ्ते में होने वाली कैबिनेट की बैठक में पास कराया जाएगा। इसके बाद इसके निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन की योजना मेट्रो रूट को भविष्य में सेक्टर 142 से बोटैनिकल गार्डेन व डिपो स्टेशन से बराकी तक ले जाने की है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close