उत्तर प्रदेशक्राइमबिहारराज्य

दो साल तक काल कोठरी में कैद रहा ‘Rajkumar’, सुनकर रोंगटे खड़े हो जायेंगे

रामपुर (लोकसत्य)। उत्तर प्रदेश में रामपुर जिले की बिलासपुर तहसील में एक किशोर को भूसे की कोठरी में दो साल तक जानवरों की तरह बंधक बना कर फार्म का कामकाज कराने का मामला प्रकाश में आया है।

बिहार की राजधानी पटना का निवासी राजकुमार नामक 13 वर्षीय किशोर की मदद के लिये फेरी लगाकर गुजर बसर करने वाले मोहम्मद इरदीस अंसारी उर्फ पप्पू फरिश्ता बन कर आया और पुलिस और श्रम अधिकारियों की मदद से उसे नरक के समान काल कोठरी से मुक्त कराया। इंसानियत को तार-तार करने वाली चाइल्ड ट्रैफिकिंग की घटना प्रकाश में आने के बाद आरोपी अपने फार्म से फरार हो गया।

रामपुर निवासी मोेहम्मद इदरीस अंसारी उर्फ पप्पू कपड़े की फेरी करते हैं। कपड़े बेचने के दौरान बिलासपुर तहसील के गांव छोटी गोदी में उन्हे एक बच्चा फार्म हाउस में भूसे के साथ कैद मिला। कोठरी की छोटी सी खिड़की से खामोशी से उसने पप्पू अंसारी से मदद मांगी और बताया कि उसे यहां दो साल से कैद रखा गया। उसके साथ बेरहमी से मारपीट की जाती है। साथ ही उसे भूसे के कमरे में बंद कर दिया जाता है। इस पर पप्पू अंसारी ने उसका एक फोटो अपने मोबाइल फोन के कैमरे से खींच लिया और चुपचाप वहां से आकर अपने मित्रों को घटना सुनाई।

पप्पू और उनके मित्रों ने बच्चे के द्वारा बताये गये बिहार के पटना में उसका पता अपने सम्पर्कों के माध्यम से ढूंढने की कोशिश की और आखिरकार वह कामयाब हो गये। परिवार से सम्पर्क साधने पर पता चला कि विनोद चौधरी का लड़का राजकुमार पिछले दो साल से गायब है। हरकत मे आये परिवार वाले रामपुर पहुंच गये जिन्हे कांग्रेस के स्थानीय नेता सिफत अली खां ने पुलिस अधीक्षक और सहायक श्रमायुक्त से मिलवाया।

पुलिस बल के साथ परिजन मौके पर पहुंचे तो राजकुमार वहां कैद पाया गया। बच्चे को आजाद करा कर परिवार और पुलिस उसे सुरक्षित स्थान पर ले आये। बच्चे से बातचीत में पता चला कि उसे बिहार के पटना में स्थित एक गुरूद्वारे में लंगर खाने के दौरान रामपुर के गांव छोटी गोदी का निवासी स्वर्ण सिंह बहला फुसलाकर रामपुर ले आया। मासूम के अनुसार दो साल पहले झांसा देकर लाये गये बच्चे के साथ अमानवीय व्यवहार करते हुए उसे भूसे के कमरे में बंद रखा जाता था। उससे फार्म के काम कराये जाते और उसे आधा पेट खाने को दिया जाता। घर जाने की जिद करने पर कभी कभी उसे रूपये देकर भी बहलाया जाता। अब आरोपी स्वर्ण सिंह अपनी अमानवीय करतूत के चलते फार्म हाउस से फरार है। पुलिस सरगर्मी से उसकी तलाश कर रही है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close