जम्मू कश्मीरराज्य

कश्मीर घाटी में धूूमधाम से मनाया गया गणतंत्र दिवस

श्रीनगर, (लोकसत्य)। कश्मीर घाटी में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था और अलगाववादियों के बंद के आह्वान के बीच रविवार को 71वां गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया। गणतंत्र दिवस का मुख्य कार्यक्रम भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शहर के सोनवार इलाके में स्थित एस.के. क्रिकेट स्टेडियम में आयोजित किया गया जहां राज्यपाल के सलाहकार फारुक अहमद खान ने राष्ट्रीय झंडा फहराया और विभिन्न सैन्य टुकड़ियों द्वारा प्रस्तुत की गयी झांकियों को सलामी दी।

इस मौके पर जम्मू कश्मीर पुलिस, जम्मू कश्मीर सैन्य पुलिस, सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), केंद्रीय सुरक्षा पुलिस फोर्स, भारतीय तिब्बत पुलिस बल,सशस्त्र सीमा बल, महिला पुलिस,राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल, अग्निशमन और आपातकालीन सेवाएं और एनसीसी कैडेट ने मार्च पास्ट निकाला। पहली बार मार्च पास्ट में हिस्सा ले रहीं छात्राओं ने कहा, “हम श्रीनगर में हो रहे गणतंत्र दिवस समारोह में पहली बार हिस्सा लेने को उत्सुक हैं।” इस मौके पर विभिन्न समूहों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किये गये जिसमें महिलाएं भी शामिल हुईं। दो स्थानीय संस्थानों के छात्रों ने भी सांस्कृतिक समारोह में हिस्सा लिया।

इसके अलावा भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कश्मीर घाटी के अन्य हिस्सों, तहसील और ब्लॉक मुख्यालय में भी गणतंत्र दिवस मनाया गया। पहली बार खंड विकास परिषद के अध्यक्षों ने अपने-अपने ब्लॉक मुख्यालयों पर राष्ट्रीय झंडा फहराया। कश्मीर के बडगाम जिले के कुछ विकास परिषद अध्यक्षों ने कहा, “हमें इस बात की खुशी है कि सरकार ने हमें तिरंगा फहराने की अनुमति दी लेकिन हमें अपनी सुरक्षा की चिंता है।”

पाखेरपोरा और रुस्तन इलाकों में हालांकि सुरक्षा कारणों से झंडा नहीं फहराया गया। उन्होंने आरोप लगाया, “वादे के बावजूद हमें वाहन और सुरक्षा नहीं प्रदान किया गया।” दूसरे खंडों में हालांकि मोबाइल सेवा स्थगित होने के कारण कोई सूचनाएं नहीं प्राप्त हो सकीं।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close