उत्तर प्रदेशराज्य

उप्र देश और दुनिया को बहुत कुछ दे सकता है :योगी

लखनऊ, (लोकसत्य) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह प्रदेश देश और दुनिया को बहुत कुछ दे सकता है ,इसके लिए 23 करोड़ जनता को पूरी ईमानदारी और ताकत से अपने संवैधानिक दायित्वों का पालन करना होगा।
योगी ने आज यहां अवध शिल्पग्राम में ‘उत्तर प्रदेश दिवस’ के समापन समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश के 71वें गणतंत्र दिवस और उत्तर प्रदेश दिवस के तीन दिवसीय समारोह का एक साथ आयोजित होना एक विशेष अवसर है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश और दुनिया को बहुत कुछ दे सकता है, इसके लिए प्रदेश की 23 करोड़ जनता को पूरी ईमानदारी और ताकत से अपने संवैधानिक दायित्वों का पालन करना होगा। देश का 71वां गणतंत्र दिवस हमें यही प्रेरणा दे रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कर्तव्यों के प्रति सचेत रहने से आपसी टकराव नहीं होता, क्योंकि वहां स्वार्थ नहीं होता है। सभी लोग एकजुटता से देश के कल्याण के लिए काम करते हैं, इसलिए किसी भी प्रकार का कोई मतभेद या मनभेद नहीं होता है। देश का संविधान हमें गौरव की अनुभूति कराता है, क्योंकि इसके कारण ही हम विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र हैं। संविधान ने सभी देशवासियों को समान रूप से मताधिकार दिया है। आज भारत में संविधान लागू होने के 70 वर्ष पूर्ण हुए हैं। संविधान ने सभी देशवासियों को बहुत कुछ दिया है। जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सभी देशवासियों को बढ़ने का मौका मिल रहा है।
उन्होंने कहा कि हमारे संविधान में हमारे मूल कर्तव्य और मौलिक अधिकारों का उल्लेख है। हमें अपने कर्तव्यों का पालन पूरी ईमानदारी और निष्ठा से करना चाहिए, तभी देश मजबूत बनेगा और आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि समर्पित राष्ट्र भावना से देश महान बनता है। उत्तर प्रदेश राज्य की स्थापना 24 जनवरी, 1950 को हुई थी, परन्तु इसके स्थापना दिवस का आयोजन वर्ष 2018 से प्रारम्भ हुआ।
समापन समारोह के दौरान मुख्यमंत्री ने सात ग्राम प्रधानों को स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत अपने-अपने गांवों को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए सम्मानित किया। सम्मानित किये गये ग्राम प्रधानों में श्रीमती आशा देवी (सम्भल), योगेन्द्र सिंह (फतेहपुर), अशोक कुमार (फर्रुखाबाद), श्रीमती मीरा देवी (कन्नौज), विनोद शुक्ला (कानपुर नगर), श्रीमती सुलोचना देवी (प्रयागराज) तथा श्रीमती लता देवी (बुलन्दशहर) शामिल थे।
योगी ने संस्कृति विभाग के बेगम अख्तर पुरस्कार से लखनऊ के उस्ताद युगांतर सिन्दूर तथा कानपुर निवासी उस्ताद अफजाल हुसैन खां निजामी को सम्मानित किया। उन्होंने पर्यटन विभाग के तहत विभिन्न परियोजनाओं में निवेश करने वाले उद्यमियों को भी सम्मानित किया।


Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close