उत्तर प्रदेशबड़ी खबरें

Chief Minister ने कृषि अवस्थापना की योजनायें तैयार करने के दिये निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ मण्डल काे कृषि प्रधान क्षेत्र बताते हुये प्रधानमंत्री के आर्थिक पैकेज के तहत कृषि अवस्थापना की योजनायें तैयार करने के निर्देश दिये है ताकि पैकेज का अधिकाधिक लाभ किसानों को मिले।

योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिये आजमगढ़ मण्डल के विकास कार्यों की समीक्षा की। उन्होने कहा कि आजमगढ़ मण्डल में कृषि अवस्थापना की योजनाओं के तहत खाद्यान्न भण्डारण के लिये गोदाम, कोल्ड स्टोरेज आदि के निर्माण को बढ़ावा दिया जाए। जनप्रतिनिधियों से बातचीत कर एफपीओ का गठन किया जाए। ई-टेण्डर के माध्यम से कार्यवाही हो, जिससे विकास कार्यों में पूरी पारदर्शिता रहे। भ्रष्टाचार और अनियमितताओं की कोई गुंजाइश न रहे।

उन्होंने कहा कि सभी कार्याें की गुणवत्ता मानकों के अनुसार समयबद्ध ढंग से पूरा किया जाए। विभिन्न विभागों में निर्माण कार्यों के लिए कार्यदायी संस्थाओं की क्षमता तथा कार्य सम्पादन के आधार पर रैंकिंग की जाये और उसके अनुरूप ही उन्हें कार्य दिए जाएं। धन के अभाव में परियोजनाएं लम्बित नहीं रहनी चाहिए।

मुख्यमंत्री ने सांसद व विधायकों से विकास योजनाओं की प्रगति का फीडबैक लिया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जनप्रतिनिधियों के साथ बेहतर समन्वय व संवाद बनाते हुए जनसमस्याओं का समाधान किया जाए।

उन्होने कहा कि अमृत योजना के तहत स्वच्छ और शुद्ध पेयजल आपूर्ति की योजना चलायी जा रही है। समय से निर्णय लेते हुए योजना के कार्यों को शीघ्रता से पूरा किया जाए। ‘हर घर नल’ योजना पहले चरण में बुन्देलखण्ड, दूसरे चरण में विन्ध्य क्षेत्र तथा तीसरे चरण में आर्सेनिक/फ्लोराइड प्रभावित क्षेत्रों में लागू की जा रही है। बलिया आर्सेनिक प्रभावित जिला है। जनप्रतिनिधिगण ‘हर घर नल’ योजना के तहत जलापूर्ति व्यवस्था के सम्बन्ध में अपने प्रस्ताव उपलब्ध कराएं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close