देशबड़ी खबरें

Apps Ban होने से परेशान हुआ चीन, भारत के समक्ष उठाया बैन का मुद्दा

नई दिल्ली,(लोकसत्य)। सीमा पर India और China के बीच तनाव मेें थोड़ी कमी आई है पर चीन की बेचैनी अभी बढ़ी हुई है। चीन की बेचैनी का मुख्य कारण है भारत द्वारा Chinese Apps पर प्रतिबंध लगाना। गलवान घाटी में हिंसक संघर्ष के बाद भारत ने टीक टॉक 59 Chinese Apps को प्रतिबंधित कर दिया है। भारत के साथ हुई  द्विपक्षीय वार्ता में यह मुद्दा उठाया गया है।

सरकारी सूत्रों  कि माने तो राजनयिक स्तर की एक बैठक के दौरान, चीनी पक्ष ने भारत में अपनी मोबाइल Apps पर बैन का मुद्दा उठाया है। सूत्रों ने कहा कि भारतीय पक्ष ने चीन को यह स्पष्ट कर दिया कि कार्रवाई सुरक्षा मुद्दों को देखते हुए की गई थी और वह नहीं चाहता था कि भारत के नागरिकों से जुड़े डाटा से छेड़छाड़ हो।

भारत ने  इन Chinese Apps पर सुरक्षा और भारतीय यूजर्स के डाटा का गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगाया गया है। बैन की गईं ऐप्स में टिकटॉक, वीचैट, हेलो आदि शामिल हैं।

बताते चलें कि Chinese Apps पर यह प्रतिबंध सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत लगाया गया है। सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति शत्रुता रखने वाले तत्वों द्वारा इन आंकड़ों का संकलन, इसकी जांच-पड़ताल और प्रोफाइलिंग, आखिरकार भारत की संप्रभुता और अखंडता पर आघात है, यह बहुत अधिक चिंता का विषय है, जिसके लिए आपातकालीन उपायों की जरूरत है।

वहीं, प्रतिबंध के बाद, चीनी विदेश मंत्रालय ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि अंतर्राष्ट्रीय निवेशकों के कानूनी अधिकारों की रक्षा करना भारत का कर्तव्य है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close