उत्तर प्रदेशकला-संस्कृतिदेशबड़ी खबरेंराज्य

Republic Day Tableau 2021: 72वें गणतंत्र दिवस परेड की झांकी में दिखी अयोध्या की थीम पर बनाई गई राम मंदिर की झलक

नई दिल्ली (लोकसत्य)। आज पुरे देश में उमंग और उत्साह के साथ आज 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। इससे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राजपथ पहुंचकर तिरंग फहराया। इस अवसर पर राजपथ पर आयोजित परेड में पूरी दुनिया भारत की सांस्कृतिक विरासत और सैन्य ताकत की झलक देख रही है। इस खास अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे। इसके बाद राष्ट्रगान हुआ और 21 तोपों की सलामी दी गई। इसके बाद परेड की शुरुआत हुई।

गौरतलब है कि, इस बार परेड में कोई मुख्य अतिथि नहीं है। कोरोना महामारी के कारण ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने अपनी यात्रा रद कर दी है। आपको बता दे कि, इससे पहले 1952, 1953 और 1966 में भी गणतंत्र दिवस परेड के लिए कोई मुख्य अतिथि नहीं था।

आपको बता दे कि, गणतंत्र दिवस परेड में सांस्कृतिक झांकियों का प्रदर्शन शुरू हो गया है। इसमें लद्दाख सबसे आगे है। यह इस केंद्र शासित प्रदेश की पहली झांकी है। इसमें लद्दाख की संस्कृति और सांप्रदायिक सद्भाव को दर्शाया गया। झांकी की थीम-भविष्य का विजन है। जिसमे भगवन बुद्ध की प्रतिमा लगी हुई है।

वहीं, पंजाब की झांकी में 9 वें सिख गुरु, श्री गुरु तेग बहादुर की महिमा को दर्शाई गई। झांकी की थीम ‘श्री गुरु तेग बहादुर की 400 वीं जयंती’ है।

राजपथ पर उत्तराखंड की झांकी में केदारनाथ मंदिर व राज्य पशु-कस्तूरी मृग की झलक देखने का मिली। गुजरात राज्य की झांकी में मोढेरा के सूर्य मंदिर को दर्शाया गया।

सबसे रोचक झांकी उतर प्रदेश की है। जो अयोध्या- उत्तर प्रदेश की सांस्कृतिक विरासत की थीम पर बनाई गई उत्तर प्रदेश की झांकी में राम मंदिर की झलक दिखाई दी। अयोध्या में दिपोत्सव भी दिखाया गया।

आपको बता दे कि, राजपथ पर गुजरात राज्य की झांकी में मोढेरा के सूर्य मंदिर को दर्शाया गया। आत्मनिर्भर भारत अभियान थीम के साथ जैव प्रौद्योगिकी विभाग ने अपनी झांकी में विभिन्न प्रक्रियाओं के माध्यम से कोरोना वैक्सीन के विकास की प्रक्रिया को दर्शाया

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close