विदेश

कोरोना की वैक्सीन बनाने के लिए यूरोप में 3200 लोगों पर क्लिनिकल ट्रायल शुरू

पेरिस, (लोकसत्य)। कोरोना वायरस संक्रमण की मार झेल रहे यूरोपीय देशों ने जोर-शोर से इसकी वैक्सीन तैयार करने पर काम करना शुरू कर दिया है। यूरोपीय देशों के 3200 लोगों पर रविवार से क्लिनिकल ट्रायल शुरू हुआ है, जिसमें चार प्रमुख दवाओं का परीक्षण किया जा रहा है। ये वे चार दवाएं हैं, जो अब भी कोरोना के इलाज के लिए इस्तेमाल की जा रही हैं। हालांकि, यह ट्रायल उसकी वैक्सीन बनाने के लिए शुरू हुए हैं। फ्रांस की पब्लिक हेल्थ रिसर्च बॉडी ने रविवार को जानकारी दी कि जिन चार दवाओं को वैक्सीन बनाने के लिए ट्रायल में शामिल किया जा रहा है, उनमें रेमडेसिविर, लोपिनाविर, रिटोनाविर और कई कॉम्बिनेशन शामिल हैं। चौथे ट्रायल में इन दवाओं को इंटरफेरोन बीटा या हाइड्रोऑक्सीक्लोरोक्वीन के साथ या उसके बिना भी ट्रायल कर देखा जाएगा। जिन 3200 लोगों को क्लिनिकल ट्रायल के लिए चुना गया है, वे सभी कोरोना वायरस से पीड़ित हैं और बेल्जियम, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, लक्जमबर्ग, स्पेन और नीदरलैंड के रहने वाले हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close