दिल्लीदेशबड़ी खबरेंविदेश

क्रिकेट मैच देखने आए भगौड़ा माल्या को लोगों ने घेरा और क्यों लगाए ‘चोर-चोर’ के नारे? जानना चाहेंगे?

नई दिल्ली/ लंदन। विजय माल्या के भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए क्रिकेट मैच देखने के लिए लंदन के ओवल ग्राउंड क्रिकेट मैच देखकर बाहर निकलते ही वहां के लोगों ने माल्या देखते ही उसके खिलाफ चोर-चोर के नारे लगाए, बताया जाता है कि इस नारे के बाद माल्या को यहां काफी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा। माल्‍या अपने परिवार के साथ मैच देखने पहुंचे थे। माल्या के साथ उनकी पत्नी व मां भी साथ थीं।

गौरतलब है कि मैच देखने के बाद माल्या स्टेडियम से बाहर आए, तो भीड़ ने उन्‍हें घेरकर चोर-चोर के नारे लगाने शुरू कर दिए। कुछ लोगों ने उन्‍हें भद्दी गालियां भी दीं। इस दौरान माल्या के साथ उनकी मां ललिता भी साथ थीं। भीड़ ने बैंकों के रुपये भी वापस करने के लिए नारे लगाए।

माल्या ने इस दौरान मीडिया से कहा कि, ‘मैं सिर्फ मैच देखने आया हूं। यहां मैं सिर्फ यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि मां को किसी तरह का नुकसान न पहुंचे। लोगों ने इतनी बार कहा है कि मेरी मां भी अब मुझे चोर समझने लगी है। प्रत्यर्पण के सवाल पर माल्‍या ने कहा, ‘कोर्ट में अगली सुनवाई की तैयारी चल रही है, जो जुलाई में होगी।’

गौरतलब है कि भारत से भगोड़ा शराब कारोबारी विजय माल्या भारत के ही बैंकों का करीब नौ हजार करोड़ रूपये का कर्ज लेकर लंदन में आलिशान जिंदगी गुजार रहा है। बताय गया है कि इस बार 2019 वर्ल्ड कप भी इंग्लैंड में ही हो रहा है। मैच से पहले मीडिया से मुखातिब होते हुए माल्‍या ने कहा कि वो आज यहां आज खेल देखने के लिए आए हैं। हालांकि, यह पहला ऐसा अवसर नहीं है जब भारतीय टीम इंग्लैंड दौरे पर हो और माल्या इस तरह मैच देखने स्टेडियम पहुंचा हो। इससे पहले पिछले साल सितंबर में भारत-इंग्लैंड के बीच खेले टेस्ट मैच को देखने पहुंचा था। इस दौरान भारतीय टीम के कुछ समर्थकों ने उसे देखकर ‘चोर-चोर’ चिल्लाना शुरू कर दिया था। कहा जाता है कि माल्या इस दौरान भारतीय टीम के खिलाड़ियों से मिलना भी चाहता था, लेकिन उसे इसकी इजाजत नहीं मिली। इसके अलावा साल 2017 में खेले गए चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान भी माल्या भारतीय टीम का मैच देखने स्टेडियम पहुंचा था। इस दौरान भी उसके खिलाफ समर्थकों ने नारेबाजी की थी।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close