विदेश

संयुक्त राष्ट्र ‘दिवालिया’ होने के कगार पर

संयुक्त राष्ट्र, (लोकसत्य)। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा है कि संघ नकदी की गंभीर संकट से जूझ रहा है। जब तक विश्व की सरकारें अपनी बकाया राशि चूकता नहीं करती है। तब तक सुधारात्मक कार्यों पर ग्रहण लगा रहेगा।

गुटेरेस के प्रवक्ता ने मंगलवार को एक बयान जारी कर यह जानकारी दी। बयान में कहा गया है कि महासचिव ने बकाया राशि देने के लिए सदस्य देशों को पत्र लिखा है, “संयुक्त राष्ट्र संघ करीब एक दशक के सबसे खराब संकट के दौर से गुजर रहा है। जो पैसे रिजर्व में रखे गये हैं वे इस माह के अंत तक खत्म हो जायेंगे और हम अपने स्टाफ और वेंडर्स को वेतन देने की स्थिति में नहीं रहेंगे।”

संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफन डुजारिक ने न्यूयार्क में नियमित प्रेस ब्रीफिंग के दौरान पत्रकारों को बताया कि 193 देशों में से 129 ने नियमित वार्षिक भुगतान कर दिया है। सीरिया ने हाल ही में भुगतान किया है और शेष देशों से उम्मीद की जा रही है कि वे यथाशीघ्र पूर्ण भुगतान कर देेंगे जिसकी सख्त जरुरत है। डुजारिक ने कहा कि सदस्य देश समय से भुगतान कर देते हैं तो नकदी की संकट से बचा जा सकता है और वैश्विक स्तर पर चलाये जा रहे संयुक्त राष्ट्र के अभियान में रुकावट नहीं आयेगी।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close